हॉर्स ट्रेडिंग पर सिंधिया ने तोड़ी चुप्पी, कहा- सरकार को कोई खतरा नहीं

अतुल सक्सेना/ग्वालियर। हॉर्स ट्रेडिंग (horse treading) को लेकर भोपाल से दिल्ली, गुरुग्राम और बंगलुरू तक मचे सियासी घमासान में मध्यप्रदेश कांग्रेस (congress) से जुड़े सभी नेताओं के बयान सामने आ रहे हैं। मुख्यमंत्री कमलनाथ (cm kamalnath), पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह (digvijay singh) इसमें सक्रिय भूमिका में हैं लेकिन ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) की भूमिका को लेकर संशय बना हुआ था। राजनीतिक पंडित इस बात को लेकर अचरज में थे कि प्रदेश की राजनीति में महत्वपूर्ण भूमिका और प्रभाव रखने वाले सिंधिया (scindia) ने अब तक चुप्पी क्यों साध रखी है, और वो भी तब जब उनके गुट के विधायकों के नाम भी इस मामले में सामने आ रहे है।

लेकिन लंबे अंतराल के बाद अब से कुछ देर पहले ज्योतिरादित्य सिंधिया  (jyotiraditya scindia) ने अपनी चुप्पी तोड़ी है। उन्होंने एक न्यूज़ एजेंसी के ज़रिये अपना बयान जारी कर कहा है कि ये बीजेपी की पुरानी आदत है लेकिन वो इसमें सफल नहीं होगी। हम सब एकजुट हैं और मध्यप्रदेश में हमारी सरकार को कोई खतरा नहीं है।