चम्बल एक्सप्रेस वे में भिण्ड मुरैना को लेकर बोले सिंधिया, भूतल परिवहन मंत्री से करेंगे मांग

भिण्ड/गणेश भारद्वाज. जन संघर्ष मोर्चा भिण्ड के द्वारा चंबल एक्सप्रेस वे में भिंड मुरैना का टूटा हुआ हिस्सा जोड़े जाने के लिए चलाए जा रहे चरणबद्ध आंदोलन के अंतर्गत आज चंबल संघर्ष मंच का एक डेलिगेशन पूर्व मंत्री चौधरी राकेश सिंह(Choudhary Rakesh Singh) के नेतृत्व में कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया से मिला और उनसे भिंड मुरैना के छूटे हुए हिस्से को उन्हें जुड़वा जाने की दिशा में काम करने की मांग की। इस पर श्री सिंधिया ने कहा कि हम सब एक प्रतिनिधिमंडल के रूप में दिल्ली जाकर भूतल परिवहन मंत्री नितिन गडकरी से मुलाकात करेंगे और चंबल एक्सप्रेस वे में भिंड मुरैना का छूटा हुआ हिस्सा जोड़े जाने को लेकर बात करेंगे।

डेलिगेशन मिलेगा गड़करी(gadkari) se

अति शीघ्र चंबल क्षेत्र का एक डेलिगेशन पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया(Jyotiraditya Scindia) के नेतृत्व में नितिन गडकरी से मुलाकात करेगा।

सिंधिया से मिले प्रतिनिधिमंडल में पूर्व मंत्री चौधरी राकेश सिंह(Rakesh Singh) के अलावा पूर्व डीईओ गोपाल सिंह भदौरिया, पूर्व ब्याख्याता आरएन तिवारी, एसबी शर्मा, डॉ तरुण शर्मा, गणेश भारद्वाज,नईम खाँ पठान, सिद्धार्थ जैन, विक्रम उपाध्याय, बल्लू यादव गोरमी आदि सम्मलित रहे।

मंच 5 मार्च को कमिश्नर को सौंपेगा ज्ञापन

भिंड मुरैना के छूटे हुए हिस्से को पुनः चंबल एक्सप्रेस वे में जोड़े जाने की मांग को लेकर आंदोलन के अगले चरण में 5 मार्च को कमिश्नर कार्यालय मुरैना पहुंचकर चंबल कमिश्नर रेनू तिवारी(Renu Tiwari) को चंबल एक्सप्रेस वे में दोनों जिलों का छूटा हुआ हिस्सा जोड़े जाने के लिए मंच संयोजक पूर्व मंत्री राकेश सिंह चतुर्वेदी के नेतृत्व में ज्ञापन सौंपा जावेगा।