इंदौर में 3D अयोध्या, जिसने राम जी को देखा वो रह गया दंग।

इंदौर, आकाश धोलपुरे

शहर में 28 घण्टे की अथक मेहनत, नंदानगर में रहने वाली युवतिके कठिन परिश्रम और 15 बच्चो की नैसर्गिक प्रतिभा ने एक ऐसा आकार लिया मानो इंदौर में ही अयोध्या का भव्य मंदिर निर्माण हो गया हो। वही भगवान श्रीराम का सजीव चित्रण तो जिस भी रामभक्त ने देखा उसे खूब भाया।

दरअसल, इंदौर के राउ स्थित उमिया धाम मंदिर में 3D (थ्री डी) रांगोली बनाई गई है। इस रांगोली को बनाने का मकसद सिर्फ इतना था कि इंदौर में ही रहकर अयोध्या में साकार रूप लेने जा रहे मंदिर की भव्यता का अंदाजा लगाया जा सके और भगवान राम को प्रत्यक्ष रूप से महसूस किया जा सके।

राउ के उमिया धाम में बनाई गई इस कलाकृति को वास्तविक रूप दिया शहर के नंदानगर में रहने वाली शिखा शर्मा और उनकी 15 लोगो की टीम ने। 28 घण्टे में तैयार की गई 3D अयोध्या और उसके भगवान राम के स्वरूप को अलग अलग स्थान से देखने पर अलग अलग मनमोहक चित्रण देखने को मिलता है।

शिखा शर्मा की माने तो 3D अयोध्या और भगवान राम को कला के जरिये सभी के सामने रखना इसलिए कठिन हो रहा था कि क्योंकि जब बारीकी से हर एंगल से देखने पर कुछ अलग नजर आ रहा था। लिहाजा उनकी पूरी टीम को हर एंगल का ध्यान रखना कठिन लक्ष्य दिख रहा था। लेकिन कहते है ना कि जब राम की भक्ति और उनकी शक्ति हो तो कुछ भी असंभव नही।

बुधवार शाम को बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने भव्य मंदिर की 3D कलाकृति का विमोचन किया। जिसके बाद सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर इस कलाकृति को निहारने के लिये आम लोगो को भी मौका मिला और जिसने इस खूबसूरत कलाकृति को देखा वो खुद को बेहद आनंदित महसूस कर रहा था।

वही कैलाश विजयवर्गीय ने इस मौके पर कहा कि भगवान राम के मंदिर के भूमिपूजन के दिन शिखा ने पूरा मंदिर बनाकर भगवान राम को दिखाया है, ऐसे में शिखा को बधाई देता हूं। वही अपनी सोशल मीडिया पोस्ट के 3D राम और अयोध्या की खूबसूरत तस्वीरों के साथ बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने लिखा है कि
हमारे नंदा नगर की बिटिया शिखा शर्मा एवं उनकी टीम ने उमियाधाम राउ में श्रीराम मंदिर का 3डी मॉडल बनाया। इसके साथ रामजी का भव्य चित्र भी प्रदर्शित किया। आज जब अयोध्या में राम मंदिर का शिलान्यास हुआ, ये चित्रात्मक अभिव्यक्ति अभिभूत करती है।