Shivraj Cabinet: आज हो सकता है विभागों का बंटवारा, CM कल करेंगे कैबिनेट बैठक

भोपाल।

दिल्ली में चले 2 दिन के विस्तृत चर्चा के बाद मध्यप्रदेश में शिवराज कैबिनेट के मंत्रियों के विभागों का बंटवारा बुधवार को संभव है। ऐसा इसलिए माना जा रहा है क्योंकि गुरुवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सुबह 10:30 बजे कैबिनेट की बैठक बुलाई है। इस बैठक में बजट और रेवेन्यू से जुड़े विधेयकों को मंजूरी दी जाएगी । जिसके चलते अनुमान लगाया जा रहा है कि उससे पहले मंत्रियों को उनके विभागों का वितरण कर दिया जाएगा।हालांकि मुख्यमंत्री शिवराज खुद कह चुके है कि एक दिन और वर्क आउट करुंगा और फिर विभागों का बंटवारा कर दिया जाएगा।

दरअसल विभाग के बंटवारे को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 2 दिन तक पार्टी के हाईकमान के साथ दिल्ली में चर्चा की थी। वहां से लौटने के बाद मुख्यमंत्री ने मीडिया से कहा था कि जल्द ही प्रदेश में विभागों का बंटवारा कर दिया जाएगा। इसी बीच गुरुवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बजट में रेवेन्यू के कई दस्तावेजों पर सहमति एवं शिक्षा करने के लिए कैबिनेट की बैठक बुलाई है। वही अधिनियम पर वह विस्तृत चर्चा करेंगे। कुछ विधेयकों को मंजूरी भी दे सकते हैं। जिसके लिए माना जा रहा है कि बैठक से पूर्व ही मंत्रियों के बीच विभागों का बंटवारा कर देंगे। हालांकि इससे पहले मुख्यमंत्री चौहान ने प्रदेश अध्यक्ष बीडी शर्मा और संगठन महामंत्री सुभाष भगत से भी आलाकमान के साथ हुई बैठकों पर चर्चा की थी।

बता दें कि मध्य प्रदेश में शिवराज कैबिनेट का विस्तार कर दिया गया है। इसके बावजूद मंत्रियों के विभाग के बंटवारे में लगातार पेंच फंसता नजर आ रहा है। सूत्रों के अनुसार जिन विभागों को लेकर पेंच है उसने नगरीय विकास, पीडब्ल्यूडी, राजस्व, स्वास्थ्य, परिवहन, वाणिज्य कर, आबकारी, स्कूल शिक्षा और महिला एवं बाल विकास विभाग शामिल है। जहां संजय समर्थक सात मंत्रियों ने बड़े विभाग की मांग की है वही चार राज्य मंत्रियों के पास कुछ विभागों के स्वतंत्र प्रभार की भी मांग की गई है। वही साफ जाहिर है कि सिंधिया समर्थक मंत्रियों की मांग के विपरीत बीजेपी बड़ी विभाग अपने पास रखना चाहती हैं। इसी वजह से सिंधिया के दिल्ली पहुंचने के तुरंत बाद ही प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बीजेपी हाईकमान से मिलने दिल्ली पहुंचे थे। जहां विभागों को लेकर राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष एवं केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के साथ उन्होंने चर्चा की थी।