MP: किराना स्टोर खोलने की तैयारी में सरकार, रूपरेखा तैयार

भोपाल।

21 दिन के देशव्यापी लॉक डाउन के बीच आम जनता को राशन एवं जरूरत की चीजें सुविधापूर्वक मुहैया करवाने के लिए प्रदेश सरकार फुटकर विक्रेताओं के दुकान खोलने पर सहमति बना सकती है। इसके लिए सरकार द्वारा रूपरेखा तैयार की जा रही है। जिसके अनुसार किराना दुकानदारों एवं फुटकर विक्रेताओं को आंशिक समय के लिए अपनी दुकानों को खोलने की अनुमति दी जा सकती है। हालांकि इसके लिए अभी दिन निश्चित नहीं किए गए हैं।

दरअसल भोपाल में तेजी से फैल रहे संक्रमण के बीच मध्य प्रदेश सरकार ने टोटल लॉकडाउन को 9 से बढ़ाकर 14 अप्रैल तक कर दिया था। जिस के बाद फुटकर विक्रेता को भी अपनी दुकानें खोलने की इजाजत नहीं थी। इसे आम नागरिकों को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है। इसी बीच शिवराज सरकार प्रदेश में किराना दुकान को खुलने देने पर विचार कर रही है। सरकार ने इसके लिए योजना तैयार करनी शुरू कर दी है। माना जा रहा है कि 15 अप्रैल को समाप्त हो रहे लॉक डाउन के बाद किराना दुकानों को आंशिक रूप से खोलने पर अनुमति बन सकती है। वही तैयार हो रही योजना के मुताबिक प्रदेश में 1 दिन होलसेल और 1 दिन फुटकर विक्रेता कुछ समय के लिए अपनी दुकानें खोल सकते हैं। अभी इस पर शिवराज सरकार की तरफ से कोई निर्णय नहीं लिया गया है। माना जा रहा है कि जल्द ही इस योजना को अमल में लाया जा सकता है।

वहीं दूसरी तरफ केंद्र सरकार द्वारा लगाए गए 21 दिन के देशव्यापी लॉक डाउन के बाद मध्य प्रदेश सरकार तीन चरणों में आगे की योजना पर विचार कर रही है। जहां पूरे प्रदेश को 3 जोन में बांटा जा सकता है। जिसमें पहला जोन अति संक्रमित क्षेत्र, दूसरा जोन संक्रमित क्षेत्र और तीसरा जोन आंशिक संक्रमित क्षेत्र के लिए सरकार के अलग-अलग नियम होंगे। पहले जोन अति संक्रमित क्षेत्र में लॉक डाउन जारी रहेगा। दूसरे जोन संक्रमित क्षेत्र में छोटे उद्योग शुरू किए जा सकते हैं। वहीं तीसरे जोन में सरकार थोड़ी ढील दे सकती है।