2 दिन भोपाल में ही रहेंगे मंत्री-विधायक, शिवराज सिंह चौहान करेंगे वन-टू-वन चर्चा

इसमें मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सभी विधायकों और मंत्रियों को दो दिन भोपाल में रुकने को कहा, ताकी सभी से वन-टू-वन चर्चा की जा सके।वही मंत्रियों को भी विधायकों से चर्चा करने को कहा ।

शिवराज सिंह चौहान

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। 28 दिसंबर को होने वाला मध्यप्रदेश विधानसभा (Madhya Pradesh Legislative Assembly) का शीतकालीन सत्र (winter session) भले ही टल गया हो लेकिन तय नियमानुसार रविवार को मुख्यमंत्री आवास पर भाजपा विधायक दल की बैठक(BJP Legislature Party Meeting) हुई। इसमें मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान  (Shivraj Singh Chauhan) ने सभी विधायकों और मंत्रियों को दो दिन भोपाल में रुकने को कहा, ताकी सभी से वन-टू-वन चर्चा की जा सके।वही मंत्रियों को भी विधायकों से चर्चा करने को कहा ।

यह भी पढ़े… मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर क्या बोले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, देखें वीडियो

दरअसल, 27 दिसंबर को मुख्यमंत्री आवास (CM House) पर आयोजित हुई बैठक में सीएम शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan)  ने कहा कि सभी विधायक-मंत्री दो दिन तक भोपाल (Bhopal) में ही रहे। विधायक मंत्रियों से और मंत्री विधायकों से चर्चा करें, ताकी क्षेत्र का विकास हो। आगे सीएम ने कहा कि आप 24 घंटे के विधायक हैं, जनता के बीच रहे और ज्यादा से ज्यादा अपना संपर्क बढ़ाएं।जनता की सुनें और काम करें। कार्यकर्ताओं को भी नजरअंदाज ना करें । मैं भी विधायकों से वन-टू-वन मुलाकात करूंगा।

शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि नगरीय निकाय चुनाव (Urban Body Election) में जिताने की जिम्मेदारी भी विधायकों की है।विधायकों से मैं भी एक-एक करके मिलूंगा। नगरीय निकाय चुनाव में आपकी महत्वपूर्ण भूमिका रहेगी। स्थानीय स्तर पर संगठन पदाधिकारियों से सामंजस्य बनाकर प्रत्याशी चयन में भूमिका निभाएं।

बैठक में सभी को राममंदिर निर्माण (Ram Mandir construction) के लिए धन संग्रह के काम में जुटने के निर्देश भी दिए गए। मुख्यमंत्री ने कहा कि आने वाले दिनों में राम मंदिर निर्माण के लिए धन संग्रह का काम होना है। सभी विधायक यह प्रयास करें कि हर व्यक्ति का कम से कम 10 रुपए मंदिर निर्माण में लगे।