भोपाल।

नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह के दौरे से पहले कमलनाथ सरकार में मंदसौर के सुवासरा से कांग्रेस विधायक हरदीप सिंह डंग ने सीएए का समर्थन कर सियासी गलियारों में हलचल पैदा कर दी है।डंग का बयान उस वक्त आया है जब कांग्रेस इसका विरोध कर रही है और हाल ही में सीएम कमलनाथ के नेतृत्व में प्रदेश में प्रोटेस्ट मार्च निकाला गया था।यहां तक की पार्टी अध्यक्ष सोनिया ने कांग्रेस नेताओं से सीएए के विरोध में देश के लोगों के साथ खड़े होने की अपील भी की थी। डंग के बयान से जहां कांग्रेस में खलबली मची हुई है वही बीजेपी ने कांग्रेस विधायक के इस फैसले का स्वागत किया है और कांग्रेस को डंग को फॉलो करने की नसीहत दी है। वही इसके लिए उन्हें धन्यवाद भी दिया है।

मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने हरदीप सिंह डंग के बयान का स्वागत करते हुए उन्होंने धन्यवाद दिया है। शिवराज सिंह चौहान ने इसके साथ ही कांग्रेस नेताओं को पढ़ने और समझने की बात की कही है।  पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज ने ट्वीट कर लिखा है कि कांग्रेस विधायक हरदीप सिंह डंग ने सीएए को पढ़ा और ढंग से समझा, इसके लिए उनको धन्यवाद।कांग्रेस के बाकी नेताओं से मेरा अनुरोध है कि हरदीप सिंह डंग से सीख लें। कम से कम एक बार सीएए के बारे में पढ़ लें। इसमें गलत कुछ नहीं है। पढ़ें, समझें और  डंग को फॉलो करें।

दरअसल,  शनिवार को विधायक डंग का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था, जिसमें वह सीएए को सही ठहराते हुए दिखाई दिए, हालांकि एनआरसी को लेकर उनकी असहमति रही। सीतामऊ में आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन में कांग्रेस विधायक हरदीप सिंह डंग ने पत्रकारों के सवाल के जवाब में कहा कि पाकिस्तान के दुखी लोगों को अगर भारत में सहारा मिले तो, कोई गलत बात नहीं है.  लेकिन वो एनआरसी के समर्थन में नहीं हैं। उन्होंने कहा कि लोग CAA और NRC को अलग अलग नहीं समझ रहे हैं, इसी वजह से यह राजनीति चल रही है। कांग्रेस विधायक हरदीप सिंह डंग ने कहा कि दोनों को अलग अलग देखा जाना चाहिए।

गौरतलब है कि सुवासरा से विधायक हरदीप सिंह डंग कमलनाथ सरकार में मंत्री न बनाए जाने से लंबे समय से नाराज चल रहे हैं और वो समय-समय पर अपनी नाराजगी जाहिर भी करते रहे हैं। इसके पहले  उन्होंने धारा 370 हटाए जाने का समर्थन भी किया था, जिसको लेकर सियासी गलियारों में काफी दिन तक चर्चा रही थी और अब सीएए का समर्थन कर उन्होंने कांग्रेस में खलबली मचा दी है।