शिवराज बोले, “जहां भी जाता हूं हीरो जैसा स्वागत होता है”, कांग्रेस ने ली चुटकी

Shivraj-told-himself-hero-after-Tiger-in-madhya-pradesh

भोपाल। कॉमन मैन के बाद खुद को टाईगर बताने वाले पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज ने अब खुद को हीरो बताया है। उनका कहना है कि हारने के बाद भी मेरा हीरो जैसा स्वागत हो रहा है। पहले से भी ज्यादा लोगों का प्यार मिल रहा है। लोगों को भाजपा और कांग्रेस में समझ आ गया है। अब लोग आंखों में आंसू लिए कहते है जल्दी लौट आओ मामा। वही शिवराज के बयान पर नगरीय प्रशासन मंत्री जयवर्धन सिंह ने तंज कसते हुए कहा कि कमलनाथ ही प्रदेश के टाइगर भी है और हीरो, बाकी कोई नहीं। 

दरअसल, रविवार को प्रदेश भाजपा कार्यालय में सोशल मीडिया कार्यकर्ताओं की बैठक को संबोधित करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि डेढ़ महीने में आधा मप्र घूम चुका हूं। जनता के बीच आज भी हीरो जैसा स्वागत होता है। उनके ब्यान पर जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने पलटवार करते हुए कहा कि शिवराज राजनीति छोड़कर फिल्म इंडस्ट्री में चले जाएं। बैठक को संबोधित करते हुए शिवराज ने कहा कि यह लोकसभा चुनाव धर्मयुद्ध है। राष्ट्रवाद और देश को तोड़ने वालों के बीच चुनाव है। यह कोई साधारण चुनाव नही है।यह चुनाव किसी व्यक्ति का चुनाव नही, भारत को बचाने का चुनाव है। ध्यान रखना महागठबंधन नही आना चाहिए,नही तो देश छिन्न  भिन्न हो जाएगा। शिवराज ने कहा कि विधानसभा चुनाव में न हम हारे हैं, न कांग्रेस जीती है और यदि लोकसभा सीट के हिसाब से देखें तो भाजपा 17 और कांग्रेस 12 सीट जीती है। हमें पांच सीटें ज्यादा मिली हैं। गौरतलब है कि भाजपा इस लोकसभा सीट में सभी 29 सीटें जीतने का दावा कर रही है।  

इधर, शिवराज के बाद पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर ने भी खुद को प्रदेश का असली हीरो बताया है। उन्होंने कहा कि दस बार चुनाव जीत चुका हूं। कोई मामूली बात है। शिवराज अगर जनता के हीरो है तो दूसरा हीरो बाबूलाल गौर है।

कमलनाथ सरकार पर साधा निशाना

वपूर्व सीएम शिवराज ने कमलनाथ सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि लंगड़ी सरकार है, कब तक चले, चलते चलते टपक जाए कोई भरोसा नही। लंगड़ी तो हम भी बना सकते थे, लेकिन खरीद फरोख्त नही करना था, जब बनाएंगे पूर्ण बहुमत की सरकार बनाएंगे। मैंने जनता से कहा हमसे क्या भूल हुई जो ये सजा हमको मिली तो जनता ने कहा मामा भूल हो गई थी। लोगो को अब बीजेपी और कांग्रेस सरकार में फर्क समझ मे आ गया है। इस दौरान शिवराज ने कमलनाथ सरकार पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि राज्य सरकार आयुष्मान भारत योजना ढंग से लागू नही कर रही है, इसलिए क्योंकि योजना लागू हुई तो इसका श्रेय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी को न मिले। राज्य बीमारी सहायता योजना बंद कर दी।

बता दे कि सीएम हाउस में अपने विदाई समारोह के दौरान शिवराज सिंह चौहान ने एक बयान दिया था जिसमें वो जनता के सामने ये कहते हुए सुनाई दे रहे थे कि आप चिंता मत करना क्योंकि टाइगर अभी जिंदा है। इसके अलावा सीएम हाउस में शिवराज सिंह चौहान ने यह भी कहा कि हो सकता है यहां वापस आने में 5 साल भी पूरे न लगे।