पूर्व मंत्रियों के घर पसरा सन्नाटा, छलका दर्द, कहा- सिंधिया समर्थकों की वजह से कटा नाम

भोपाल।

मध्य प्रदेश में शिवराज कैबिनेट में शपथ लेने वाले मंत्रियों की जारी लिस्ट के बाद प्रदेश की राजनीति गरमा गई है। जहां एक तरफ शिवराज कैबिनेट में 26 से 28 मंत्रियों के शपथ लिए जाने की बात सामने आ रही है। वहीं दूसरी तरफ पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मंत्री जी ने इस बार कैबिनेट में जगह नहीं मिल पा रही है वह इस बात से हताश एवं निराशा है। हालांकि उनका कहना है कि वह पार्टी के फैसले के साथ है और उसको स्वीकार कर रहे हैं लेकिन इससे पहले ही बुधवार को शिवराज द्वारा अमृत मंथन एवं विष पीने के बयान के बाद स्पष्ट है कि कि पार्टी में सब सही नहीं है। चीज उस तरह नहीं है जिस तरह दिखाई दे रही है।

दूसरी तरफ कांग्रेस कहां छोड़ बीजेपी में शामिल हुए सिंधिया समर्थक कुल 10 नेताओं के मंत्रिमंडल में शामिल होने की खबर सामने आ रही है। सूत्रों की माने तो वरिष्ठ नेता बिसाहूलाल सिंह सहित प्रद्युमन सिंह तोमर की ताजपोशी निश्चित है। के दो वहीं दूसरी तरफ गौरीशंकर बिसेन और रामपाल सिंह का पत्ता मंत्रिमंडल से कट चुका है। पूर्व मंत्री ने यह तो कहा है कि सिंधिया समर्थकों की वजह से उनका नाम कटा है लेकिन ने यह भी साफ कहा है कि वह पार्टी के फैसले के साथ हैं और इस फैसले को स्वीकार कर रहे हैं।

बता दें कि 11:00 बजे शपथ ग्रहण समारोह के बाद दोपहर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विस्तारित मंत्रिमंडल की पहली बैठक करेंगे। की बैठक मंत्रालय में होगी जहां सभी नवनियुक्त मंत्री भी शामिल होंगे। मंत्रिमंडल में 26 से 28 मंत्रियों के शपथ लेने की संभावना है। जिनमें से 10 सिंधिया गुटके तो वही 16 बीजेपी की तरफ से होंगे। इनमें कुछ नए चेहरे होंगे। इससे पहले सिंधिया समर्थक नेता की मंत्री पद पर ताजपोशी हो चुकी है। वही भोपाल के भावी मंत्रियों के बंगले पर रौनक छाई हुई है। जबकि पूर्व मंत्रियों के घरों पर सन्नाटा साफ नजर आ रहा है।