एमपी में सपा-बसपा का गठबंधन, ये होंगे सपा के उम्मीदवार!

SP-to-contest-only-3-LS-seats-in-MP-in-tie-up-with-BSP

भोपाल। लोकसभा चुनाव के मद्देनर समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी उत्तर प्रदेश में गठबंधन का ऐलान कर चुकी हैं। वहीं, अब ये गठबंधन मध्य प्रदेश में भी होने के आसार हैं। प्रदेश की 29 लोकसभा सीटों में से सपा तीन पर चुनाव लड़ेगी। जबकि अन्य 26 सीटों पर बसपा अपने उम्मीदवार उतारेगी। बालाघाट, खजुराहो और टीकमगढ़ लोकसभा सीट पर सपा अपने उम्मीदवार उतारेगी। बसपा प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप अहीरवार ने कहा कि हम एमपी में भी सपा के साथ गठबंधन करेंगे। सपा तीन सीटों पर अपने उम्मीदवारों को उतारेगी जबिक शेष सीटों पर हमारे उम्मीदवार होंगे। 

विंध्य और चंबल से दूर हुई सपा

गठबंधन में जो सीटें सपा को मिली हैं उससे इस बात का अंदाजा लगाया जा सकता है कि सपा प्रदेश के विंध्य और चंबल में अपने उम्मीदवार नहीं उतारेगी। सपा नेता ने बताया कि जहां बसपा मजबूत स्थिति में है वहां हम अपने उम्मीदवार नहीं उतारेंगे। विधानसभा चुनाव में भले बसपा ने 2 सीटें जीती हैं लेकिन उसका प्रदर्शन कई सीटों पर शानदार रहा है। खासतौर से विंध्य क्षेत्र में बसपा का प्रदर्शन अच्छा रहा। सूत्रों के मुताबिक सपा बालाघाट, खदुराहो और टीकमगढ़ सीट पर चुनाव लड़ सकती है। वहीं, बसपा बची हुई 26 सीटों पर अपने उम्मीदवारों को मौका देगी। 

सपा के वरिष्ठ नेता कंकर मुंजारे बालाघाट लोकसभा सीट से चुनाव लड़ सकते है। बाकी दो सीटों के लिए फिलहाल कोई नाम पार्टी की ओर से अभी तय नहीं किया गया है। ये बात पूर्व विधायक और सपा नेता डॉ सुनिलम ने बताई। मुंजारे और उनकी पत्नी अनुभा ने परसवाड़ा और बालाघाट निर्वाचन क्षेत्रों से 2018 का विधानसभा चुनाव लड़ा था और कांग्रेस उम्मीदवारों से आगे दूसरे स्थान पर रहीं।  डॉ सुनिलम से जब पूछा गया कि क्या वह लोकसभा चुनाव में पार्टी के लिए प्रचार का नेतृत्व करेंगे। इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि प्रदेश अध्यक्ष पद के लिए नॉमिनेशन की प्रक्रिया काफी लंबी होती है। सपा प्रमुख अखिलेश यादव और अन्य विरष्ठ नेता ये जानते हैं कि प्रदेश में कौन सा नेता इस काम को बखूबी निभा सकता है। वह सही समय पर सही फैसला लेंगे। 

उन्होंने कहा कि पार्टी का लक्ष्य फिलहाल तीन सीटों पर जीत हासिल करना है। उन्होंने कहा कि मुजारे बालाघाट से उम्मीदवार होंगे। सूत्रों के मुताबिक बागी कांग्रेस नेता सत्यव्रत चतुर्वेदी के पुत्र नितिन खजुराहो लोकसभा सीट से चुनाव लड़ सकते हैं। वह विधानसभा चुनाव में राजनगर सीट से सपा के उम्मीदवार थे।