शाजापुर| मध्य प्रदेश के शाजापुर में नागरिकता संसोधन कानून (सीएए) के समर्थन में निकाली जा रही रैली पर पथराव किया गया| घटना की जानकारी मिलते ही जिले के तमाम वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंच गए। इसके बाद स्थिति को नियंत्रित किया। बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया|  पुलिस अब मामले की जांच में जुट गई, सीसीटीवी के जरिए पत्थरबाजों को तलाश कर रही है।

जानकारी के मुताबिक, सीएए के समर्थन में निकाली जा रही तिरंगा यात्रा में शहर के 40 संगठन शामिल थे। हजारों लोग इस रैली में हाथों में तिरंगा लिए भारत माता के जयकारे लगाते हुए चल रहे थे। शाजापुर में आईआईटी परिसर से निकली रैली वापस यही पर आकर खत्म होने वाली थी। बताया जा रहा जब रैली कुरैशी मोहल्ले से गुजरी तो पत्थरबाजी शुरू हो गई| घटना के दौरान यहां आसपास की दुकानें बंद हो गई।

मौके पर पहुंचे एडिशनल एसपी आरएस प्रजापति ने कहा कि रैली के दौरान नई सड़क पर एक गाय सामने आ गई। इसके बाद यह अफवाह फैल गई कि यहां पत्थरबाजी हो रही है। उसके बाद स्थिति बिगड़ गई। पुलिस का कहना है कि स्थिति पूरी तरह से नियंत्रित है। पत्थरबाजी वाले इलाके में भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती कर दी गई है। पत्थरबाजी किस ओर से हुई इसके लिए सीसीटीवी खंगाले जा रहे हैं।