मोदी जी की हत्या की बात विद्वेष की पराकाष्ठा है घृणा की अति है, इसे सहन नहीं किया जाएगा : सीएम शिवराज

Raja Pateriya Controversial Remarks : कांग्रेस नेता और पूर्व मंत्री राजा पटेरिया द्वारा प्रधानमंत्री मोदी पर किए गए आपत्तिजनक बयान पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गंभीर आपत्ति जताई है। शिवराज ने दो टूक शब्दों में कहा है कि इस तरह की चीजों को किसी भी हालत में सहन नहीं किया जाएगा।

‘यह बयान कांग्रेस का असली भाव प्रकट कर रहे हैं’

पटेरिया के विवादित बयान पर शिवराज ने राहुल की भारत जोड़ो यात्रा को भी आड़े हाथ लिया, उन्होंने इस यात्रा को एक ढोंग बताया। मुख्यमंत्री ने कहा कि “भारत जोड़ो यात्रा का ढोंग करने वाले लोगों की सच्चाई सामने आ रही है। माननीय मोदी जी जनता के दिलों में बसते हैं, वह संपूर्ण देश की श्रद्धा और आस्था का केंद्र हैं, कांग्रेस और कांग्रेस के लोग मैदान में उनसे मुकाबला नहीं कर सकते। इसलिए कांग्रेस के एक नेता मोदी जी की हत्या की बात कर रहे हैं। उनका यह कथन विद्वेष की पराकाष्ठा है, घृणा की अति है , इन बयानों से कांग्रेस के असली भाव प्रकट हो रहे हैं। लेकिन ऐसी चीजों को सहन नहीं किया जाएगा। एफआईआर की जा रही है और अब आगे कानून अपना काम करेगा।

गृहमंत्री ने दिए एफआईआर के निर्देश

शिवराज के अलावा बीजेपी के नेता राजपाल सिंह सिसोदिया, गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा और चिकित्सा मंत्री विश्वास सारंग ने भी पटेरिया के इस बयान पर गंभीर आपत्ति जताई है। नरोत्तम मिश्रा ने बताया है कि उन्होंने एसपी को एफआईआर करने के निर्देश दे दिए हैं।

ये है मामला

बता दें कि इस विवाविद वीडियो में राजा पटेरिया प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बारे में बात करते हुए नजर आ रहे हैं और इसी दौरान वो कहते हैं कि यदि संविधान को बचाना है तो मोदी की हत्या करने के लिए तैयार रहो। हालांकि बाद में नेताजी वीडियो में हत्या शब्द को हार की परिभाषा देते हुए नजर आ रहे हैं और कह रहे हैं हत्या मतलब हार। इस मामले पर विवाद खड़ा होने के बाद पटेरिया ने कहा है कि उनके द्वारा कही गई बात को गलत तरीके से पेश किया गया है और उनका अर्थ कुछ और था। लेकिन इस मामले ने अब तूल पकड़ लिया है और सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भी इसपर कड़ी आपत्ति जताते हुए कानूनी कार्रवाई करने की बात कही है।