अचानक ‘ताई’ से मिलने पहुंचे मंत्री पटवारी, निकाले जा रहे सियासी मायने

इंदौर| आकाश धोलपुरे| राजनीति में अक्सर विरोधी दल के नेताओं की मुलाकात सुर्खियां बन जाती है, ऐसे ही एक मुलाकात से इंदौर सहित प्रदेश की सियासत गरमा गई है। ये मुलाकात रविवार सुबह की है जब प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी स्वयं सायकिल पर सवार होकर देश की पूर्व लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन के मनीषपूरी स्थित निवास पर पहुंचे। हालांकि मंत्री पटवारी घर पहुंचने वाले है इस बात की जानकारी ताई को पहले ही थी ऐसे में सभापति अजय सिंह नरुका भी ताई के घर पहुंच गए हालांकि मंत्री का अचानक ताई के घर पहुंचना सियासी गलियारों में अलग – अलग मायने निकालने के लिये काफी है। 

बता दे कि मंत्री पटवारी जब ताई के घर पहुंचे तो पहले उन्हें ताई ने खूब डांट पिलाई इसके बाद उनके घर मे ताई ने उन्हें नाश्ता कराया और फिर बातचीत का दौर शुरू हुआ। ताई ने टेंचिंग ग्राउंड से आने वाली बदबू की शिकायत भी की वही इंटरनेशनल स्विमिंग पूल, स्पोर्ट्स काम्प्लेक्स, डाइट कैम्प्स बिजलपुर और पिपलियाहाना क्षेत्र में निर्मित अहिल्या स्मारक की प्रोग्रेस रिपोर्ट मांगी। इसके बाद मंत्री ने ताई से कहा आप मुझे पहले डांटो क्योंकि आप जब डांटते हो तो मेरे काम को प्रमाणिकता मिल जाती है इसके बाद अपने नेचर के मुताबिक पटवारी ने माहौल को खुशनुमा बनाने का प्रयास जिसमे वो सफल भी हुए। 

मुलाकात पर बोले पटवारी 

इधर, इस मुलाकात के बाद मंत्री पटवारी ने मीडिया से कहा कि इंदौर की जनता ने ताई को हमेशा पसंद किया है और उनका लंबा और अच्छा राजनीतिक अनुभव रहा है। ऐसी राजनीतिक शख्सियत हमारे अपने शहर में है ऐसे में एक अच्छे जनप्रतिनिधि का दायित्व है उनसे अनुभव ले। उनसे इंदौर शहर के विकास, विभाग और मराठी समाज के संबंध में ताई ने कुछ निर्देश दिए थे उनके बारे में उन्हें बताने आया था। उन्होंने कहा कि ताई के मन मे दलगत राजनीति नही है और वो अब इंदौर,  देश और समाज की भलाई के बारे में सोचती है। वही उन्होंने कहा कि बुजुर्गो का आशीर्वाद लेने से दिमाग ठंडा रहता है और उस पर चर्बी नही चढ़ती है। वही राफेल मामले पर मंत्री पटवारी ने कहा कोर्ट ने ये कहा हमारे पास ना आकर भी जांच हो सकती है वही राहुल गांधी का बचाव करते हुए कहा वो विपक्ष के नेता है और उन्होंने जो अनियमितता देखी व फ्रांस के राष्ट्रपति के बयान और तथ्यों के आधार पर अपनी बातें रखी थी। वही बीजेपी द्वारा शनिवार को किये प्रदर्शन पर मंत्री ने कहा कि बीजेपी के पास काम नही है, वो तथ्यात्मक बात नही करती है और नकारात्मक प्रदर्शन करती रहती है। वही मध्यप्रदेश में कांग्रेस अध्यक्ष पर पूछे गए सवाल पर मंत्री पटवारी ने कहा कि इस मामले में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी निर्णय लेगी और आखरी निर्णय नही होगा तो कि कांग्रेस का अपना संविधान है और चुनाव भी हो सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here