मप्र से था सुषमा स्वराज का गहरा रिश्ता, राज्य में शोक की लहर, शिवराज हुए भावुक

Sushma-Swaraj-had-a-deep-relationship-with-MP-shivraj-post-emotional-tweet

भोपाल। ट्विटर पर ही हर समय लोगों की मदद करने वाली पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज अब नहीं रही| दुनिया से विदा लेने से कुछ घंटे पहले ही उन्होंने धारा 370 के फैसले को लेकर भावुक ट्वीट किया था| धारा 370 हटाने पर पीएम मोदी को बधाई देते हुए कहा था कि जीवन में यह दिन देखने की प्रतीक्षा कर रही थी। उनके निधन से मध्य प्रदेश में भी शोक की लहर है| 

मध्य प्रदेश से सुषमा स्वराज का गहरा रिश्ता रहा, वे विदिशा से दो बार सांसद रही, लेकिन इस बार उन्होंने स्वास्थ कारणों के चलते चुनाव नहीं लड़ने का फैसला किया था| पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने उनके निधन पर शोक जताया है| शिवराज का उनका गहरा रिश्ता रहा है सुषमा स्‍वराज को पूर्व मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अपनी बहन की तरह सम्‍मान देते थे|

विदिशा से सांसद होने के नाते उनका मध्य प्रदेश से जुड़ाव रहा है, वहीं अक्सर वे प्रदेश के दौरे पर आती थी|  पाकिस्‍तान से मू‍क बधिर गीता को इंदौर लाने में सुषमा स्‍वराज का ही खासा योगदान रहा। उनके ही प्रयासों से गीता को लाकर इंदौर में मूक बधिर संस्‍थान में रखा गया है। भाजपा की पुरानी नेता होने के नाते वे मध्य प्रदेश के नेताओं के लिए आदर्श रही है| उनके निधन से हर कोई स्तब्ध है| 

शिवराज ने जताया शोक 

पूर्व मुख्यमंत्री ने सुषमा स्वराज के निधन पर ट्वीट कर शोक जताया है, उन्होंने भावुक शब्दों में लिखा है कि पूर्व विदेश मंत्री,बहन सुषमा स्वराज के निधन के समाचार से स्तब्ध हूँ। ईश्वर से दिवंगत आत्मा को अपने श्रीचरणों में स्थान देने की प्रार्थना करता हूँ। आप अपने जनसहयोग व राष्ट्र उत्थान के कार्यों के माध्यम से देश व दुनिया के लोगों के दिलों में सदैव जिंदा रहेंगी। विनम्र श्रद्धांजलि! हमारी सुषमा दीदी हम सभी को छोड़कर चली गईं। अस्वस्थ होने के बावजूद भी वे विदिशा सहित प्रदेश की जनता की सेवा करती रहीं। मुझे उनसे हमेशा ही जनसेवा की प्रेरणा मिली। दीदी आप जहाँ कहीं भी हों, आपका आशीर्वाद सदैव मिलता रहे, यही ईश्वर से प्रार्थना है।

सभी नेताओं ने ट्वीट कर जताया दुःख 

 भाजपा के पूर्व मंत्री विश्‍वास सारंग ने भी सुषमा स्‍वराज के निधन पर शोक व्‍यक्‍त किया है। उन्‍होंने कहा कि वे एक बड़ी राजनेता के साथ अच्‍छी इंसान थी और किसी की भी मदद के लिए तैयार रहती थी। वहीं कैलाश विजयवर्गीय ने ट्वीट कर लिखा है भाजपा की ओजस्वी नेता और पूर्व विदेश मंत्री श्रीमती सुषमा स्वराज जी का निधन देश और पार्टी के अलावा मेरी व्यक्तिगत क्षति है। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दे और परिवार को ये दुःख सहने का साहस दे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here