‘महाराज’ की कट्टर समर्थक मंत्री का बयान-“मुझे सबसे छोटा विभाग भी दे दें, काम कर लूंगी”

ग्वालियर।अतुल सक्सेना। शिवराज मंत्रिमंडल के विस्तार (Shivraj cabinet expansion) के बाद शिवराज और “महाराज” के बीच राजस्व, वित्त, परिवहन, गृह जैसे विभागों की खींचतान के बीच सिंधिया समर्थक कैबिनेट मंत्री इमरती देवी (Scindia pro cabinet minister Imrati Devi) का बड़ा बयान सामने आया है । मंत्री इमरती देवी ने कहा है कि मुख्यमंत्री जी और अन्य मंत्री सबसे छोटा विभाग समझते हों मुझे दे दें, उसमें भी काम करके दिखा दूँगी।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को ग्वालियर में ऐलान किया था कि वे रविवार को विभागों का बंटवारा कर देंगे हालांकि खबर लिखे जाने तक इसके कोई संकेत नहीं मिले थे बावजूद इसके राजनीति तेज हो गई है। महाकौशल से आने वाले एक मात्र राज्य मंत्री राम किशोर कांवरे ने अपनी इच्छा जाहिर करते हुए कहा कि उनकी रुचि पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की है क्योंकि मुझे पंचायतों में काम करने का अनुभव है साथ ही उन्होंने जोड़ा कि ये मुख्यमंत्री का विशेषाधिकार है वे जो विभाग मुझे देंगे उसमें काम करूँगा।

उधर सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया की कट्टर समर्थक और अपनी स्पष्ट बयानों को लेकर चर्चा में रहने वाली शिवराज मंत्रिमंडल की कैबिनेट मंत्री इमरती देवी ने कहा कि मैंने पहले भी कई बार कहा है विभाग तो विभाग होता है, लेकिन काम करने की बात अलग होती है। मेरा मतलब है कि मुख्यमंत्री जी और और अन्य मंत्रीगण जिस विभाग को सबसे छोटा समझते हों वो विभाग मुझे दें दे मैं उसमें भी काम करके दिखा दूँगी। महिला एवं बाल विकास विभाग की पुनः इच्छा के सवाल पर इमरती देवी ने परोक्ष रूप से भाजपा सरकार पर ही तंज कसते हुए सहज भाव में कहा कि मैंने जब महिला एवं बाल विकास संभाला था तो आंगनबाड़ियों में कई जगह कंडे भरे थे, भूसा भरा था, कुपोषित बच्चे मिले थे, मैंने उसको भी सुधार लिया था। मुख्यमंत्री जी मुझे कोई भी छोटा, बिगड़ा विभाग दे दें उसे भी चला लूंगी। इमरती देवी ने दूसरे मंत्रियों को नसीहत देते हुए कहा कि मुख्यमंत्री जी जिसे जो विभाग दें उसमें खुश रहना चाहिए और काम करना चाहिए।