इंदौर से शिवराज कैबिनेट में शामिल हो सकते है ये चेहरे, चर्चाओं का बाजार गर्म

3667

इंदौर।आकाश धोलपुरे।

बीजेपी की पूर्व की सरकारों की कैबिनेट्स में इंदौर के बीजेपी विधायको को हमेशा इंतजार की घड़ियां गिनते – गिनते सालों बीत जाते थे लेकिन इस दफा बीजेपी संगठन उपचुनाव के पहले कोई रिस्क। नही लेना चाहता है लिहाजा उम्मीद की जा रही है कि जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट के अलावा बीजेपी सरकार में 2 और मंत्री इंदौर से प्रदेश की अगुआई कर सकते है हालांकि ये बात ओर है कि दिल्ली पहुंचे संगठन और सरकार के मन मे क्या चल रहा है इसको लेकर कोई ठोस जानकारी तो सामने नही आई है लेकिन दिल्ली से लेकर भोपाल तक राजनीतिक गलियारों में ये चर्चा जोरों पर है कि प्रदेश में सर्वाधिक मतों से जीत का रिकार्ड बनाने वाले और जनता से सीधा संवाद रखने वाले इंदौर से बीजेपी विधायक रमेश मेंदोला का मंत्री बनना लगभग तय है और इसके पीछे की वजह ये है कि स्वयं सीएम शिवराज सिंह चौहान और बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव भी ऐसा चाह रहे है।

दरअसल, उपचुनाव में सांवेर सीट पर सिलावट को विजय दिलवाने के बीजेपी का ये कदम कई मायनों में सिलावट के लिए कारगर साबित होगा और इस बात को सिंधिया भी जानते है कि यदि विधायक रमेश मेंदोला यदि मंत्री के रूप में सांवेर से सिलावट के लिए ताल ठोकेंगे तो सांवेर में कांग्रेस बैकफुट पर जा सकती है। इसके अलावा एक बड़ा कारण ये भी है कि मेंदोला समर्थक भी उन्हें मंत्री के रूप में कार्य करते देखना चाहते है।

मेंदोला का नाम मंत्रिमंडल के। गठन के पहले ही प्रभावी रूप से रखा जा चुका है जिसकी चर्चाएं राजनीतिक गलियारों में जोरो पर है लेकिन ये चर्चा भी जोरो पर है कि यदि इंदौर से दूसरा नाम कोई आता है तो वो विधायक उषा ठाकुर का होगा जिनके नाम पर संगठन भी सहमत दिखाई दे रहा है। वही पूर्व महापौर और विधायक मालिनी गौड़ को सीएम शिवराज और केंद्रीय मंत्री तोमर का भी समर्थन है लिहाजा वो भी मंत्री पद के लिए बीजेपी के लिए एक बड़े विकल्प के तौर पर मौजूद है। वही लॉक डाउन के दौरान कसरत कर, मंत्री पद के लिये खुद को फिट बताने वाले महेंद्र हार्डिया को भी बीजेपी नकार नही सकती है क्योंकि एक तरफ जातिगत समीकरण तो दूसरी तरफ उनका अनुभव भी उन्हें अन्य लोगो से आगे ले जाता है हालांकि उनकी उम्र ही एक ऐसा फैक्टर है जिसके चलते उनकी राह आसान नही होगी। फिलहाल, इंदौर से कांग्रेस छोड़ बीजेपी में शामिल हुए सिलावट के रूप में एक मंत्री है ऐसे में ये शायद ही संभव हो कि बीजेपी आलाकमान 3 मंत्री इंदौर के खाते में रखे। फिलहाल, सूत्रों की माने तो ये तय माना जा रहा है कि शिवराज मंत्रिमंडल में मेंदोला जरूर होंगे लेकिन इंदौर से तीसरा कौन ? या तीसरा नही इस पर सवाल बने हुए है और उम्मीद है इनके जबाव आज रात के पहले मिल सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here