मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर इस बीजेपी विधायक ने कही ये बड़ी बात

भाजपा विधायक

जबलपुर, संदीप कुमार। शिवराज सरकार के मंत्रिमंडल विस्तार (cabinet expansion) को लेकर एक अनार सौ बीमार जैसी स्थिति है। कैबिनेट में जगह पाने वेटिंग लिस्ट में चल रहे जबलपुर की पाटन सीट से भाजपा विधायक अजय विश्नोई (ajay vishnoi) ने अब एक बड़ा बयान दिया है। अजय विश्नोई का कहना है की कमलनाथ सरकार (kamalnath government) गिरने के बाद बनी शिवराज सरकार (shivraj government) में बड़ी आपाधापी में मंत्रिमंडल का गठन किया गया था, जिसमें क्षेत्रीय संतुलन का ध्यान नहीं रखा जा सका।

अजय विश्नोई का कहना है कि अब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान समय पर कैबिनेट विस्तार करेंगे जिसमें क्षेत्रीय संतुलन का ध्यान जरूर रखा जाएगा। भाजपा विधायक अजय विश्नोई ने एक और बड़ा बयान देते हुए कहा कि वो विधानसभा अध्यक्ष नहीं बनना चाहते। बता दें कि शिवराज सरकार की मौजूदा कैबिनेट में अधिकांश मंत्री ग्वालियर चंबल संभाग से है।

शिवराज कैबिनेट में मालवा निमाड़ और बुंदेलखंड को भी पर्याप्त प्रतिनिधित्व मिला है लेकिन महाकौशल के मुख्यालय जबलपुर और विंध्य के मुख्यालय रीवा से एक भी मंत्री नहीं बनाया गया। खासतौर पर जब मध्य प्रदेश के राजनीतिक इतिहास में अधिकांश विधानसभा अध्यक्ष महाकौशल या विंध्य क्षेत्र से ही रहे हैं तब रीवा से राजेंद्र शुक्ल या जबलपुर से अजय विश्नोई को विधानसभा अध्यक्ष बनाए जाने की चर्चा है, लेकिन विश्नोई ने साफ कहा है कि वो ना तो विधानसभा अध्यक्ष की दौड़ में है और ना ही वो इस पद पर काबिज होना चाहते हैं।