इस रक्षाबंधन पर बांधिये “चंदा की राखी”, वन विभाग की अनूठी पहल

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। इस बार वन विभाग रक्षाबंधन पर एक अनूठी पहल करने जा रहा है। दरअसल मध्यप्रदेश अफ्रीका चीता का बेसब्री से इंतजार कर रहा है। वहीं पालपुर कूनो नेशनल पार्क में चीता परियोजना के अंतर्गत चीता संरक्षण के प्रति जागरूकता लाने के लिये वन विभाग ने मादा चीता चंदा के नाम से 10 हजार राखियां बांटने और आस-पास के लोगों को ‘चंदा की राखी’ बांधने की अनोखी पहल की है।

यह राखियाँ स्थानीय निवासियों के अलावा कूनो के आस-पास रहने वाले लोगों को भी बांटी जाएगी और इस राखी को रक्षाबंधन के दिन बहनें अपने भाइयों की कलाई पर बांधेंगीं। साथ ही वन विभाग, चीता परियोजना के संबंध में जरूरी जानकारियाँ भी स्थानीय नागरिकों से साझा करेगा। ये राखियाँ ‘चीता और वन्यप्राणी’ की रक्षा के प्रति नागरिकों का संकल्प का काम करेगी।

वन विभाग ने वन्य जीवन के प्रति संवेदनशील बनाने के लिये ‘चिंटू चीता’ नाम से शुभांकर भी जारी किया है। नागरिकों को कुनो में चीता आगमन के प्रति जागरूक और संवेदनशील बनाने का यह अभियान निरंतर चलेगा। चिंटू, मिंटू और चंदा चीता के चित्रों वाली एक कलाई बैंड भी वितरित किया जा रहा है।