tiger-and-lion-fight-in-politics-ground-of-madhya-pradesh-

भोपाल| मध्य प्रदेश में विधानसभ चुनाव के बाद राजनीति का मैदान अब जंगल में तब्दील हो गया है और अब यहां टाइगर और बब्बर शेर के बीच मुकाबला है| यह हम नहीं कह रहे बल्कि खुद बीजेपी और कांग्रेस के बीच चल रही जुबानी जंग से महसूस हो रहा है| पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के ‘टाइगर अभी ज़िंदा है’ के बयान के बाद अब दोनों तरफ से बयानबाजी तेज हो गई है| अब कांग्रेस नेता मानक अग्रवाल ने सीएम कमलनाथ को बब्बर शेर बताया है| 

दरअसल, सीएम हाउस छोड़ने से पहले शिवराज सिंह चौहान ने कहा था कि चिंता करने की जरुरत नहीं है, टाइगर अभी जिन्दा है| इस बयान के कई मायने निकालने जाने लगे| और धीरे धीरे यह बयान प्रदेश की सियासत में ऐसा घुला कि कांग्रेस नेताओं ने भी इस पर पलटवार करना शुरू कर दिया| पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने अपनी ही स्टाइल में इसका जवाब देते हुए कहा ‘टाइगर तो है, लेकिन अब टाइगर के नाख़ून और दांत गिर चुके हैं, हम टाइगर का संरक्षण जरूर करेंगे”|  यह बयानबाजी यही नहीं रुकी भाजपा नेताओं की ओर से शिवराज के बयान का समर्थन किया जा रहा है| बल्कि शिवराज जहां जहां पहुँच रहे हैं, वहाँ कार्यकर्ता ‘टाइगर अभी जिन्दा है’ की नारेबाजी कर रहे हैं|

इसी क्रम में कांग्रेस के कार्यवाहक प्रदेश अध्यक्ष जीतू पटवारी ने भी शिवराज पर तंज कसा है| उन्होंने कहा है कि शिवराज सिंह अच्छे इंसान हैं फिर वो दूसरी प्रजाति में क्यों जाना चाहते हैं| वहीं कांग्रेस नेता मानक अग्रवाल ने एक ट्वीट कर इस मामले को ओर हवा दे दी| उन्होंने ट्वीट कर कहा कि ‘यदि शिवराज टाइगर है तो कमलनाथ जी बब्बर शेर हैं ‘| अब तक टाइगर को लेकर चर्चा हो रही थी, अब मैदान में बब्बर शेर की एंट्री हो गई है| सांप-नेवले का जिक्र तो प्रदेश में अक्सर होता रहा है, अब जल्द ही चीता, घोड़ा, हिरण आदि वन्य जीवों का भी जिक्र हो सकता है|