अब ‘टाईगर’ को टक्कर देगा टाईगर

Tiger-will-now-challenge-'Tiger'-in-madhya-pradesh

भोपाल| मध्य प्रदेश की राजनीति में खुद को टाइगर कहने वाले पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को टक्कर देने के लिए अब फिल्म जगत के टाइगर प्रदेश में डेरा डालने वाले हैं| जी हाँ, मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अपनी सरकार के 70 दिनों का रिपोर्ट कार्ड पेश करते हुए अभिनेता सलमान खान के इंदौर से लोकसभा चुनाव लड़ने के संकेत दिए हैं| उन्होंने कहा है कि 1 अप्रैल से 18 अप्रैल तक अभिनेता सलमान खान मध्यप्रदेश में रहेंगे| 

दरअसल, मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मंत्रालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सरकार का 70 दिनों का रिपोर्ट कार्ड पेश किया| इस दौरान उन्होंने मीडिया को सम्बोधित किया| पिछले दिनों सलमान खान के इंदौर से चुनाव लड़ने की चर्चा जोरो पर थी|  दावा किया जा रहा था कि भाजपा के गढ़ को भेदने के लिए कांग्रेस सलमान खान को इंदौर लोकसभा सीट से चुनाव लड़वा सकती है। वही प्रदेश सचिव राकेश यादव ने कहा था कि इस सम्बन्ध में मंथन चल रहा है।  सलमान खान चुनाव लड़ेंगे तो इंदौर में युवाओं को फिल्म इंडस्ट्री का लाभ मिलेगा। सलमान और सीएम कमलनाथ के बीच अच्छे सम्बन्ध है। हालाँकि बाद में इसे ख़ारिज कर दिया गया था| लेकिन अब सीएम कमलनाथ ने कहा है कि ‘मैंने फ़िल्म अभिनेता सलमान खान से फ़ोन पर बात की है, सलमान इंदौर के रहने वाले हैं, मैने उनसे पूछा था कि आपका एमपी के विकास में क्या योगदान रहेगा, जवाब में सलमान ने कहा है कि मैं 1 अप्रैल से 18 अप्रैल तक एमपी में रहूँगा, पर्यटन स्थलों की ब्रांडिंग भी करूँगा’| मध्य प्रदेश में सलमान की सक्रियता और चुनावी समय उनका सरकार के कामों में साथ रहना बड़ा असर डाल सकता है, अगर वह चुनाव न भी लड़े तो भी सलमान का साथ कमलनाथ के लिए लोकसभा चुनाव में फायदेमंद साबित होगा, वहीं खुद को टाइगर बताने वाले शिवराज को यह टाइगर टक्कर दे सकता है| 

इंदौर से सलमान का खास कनेक्शन, कमलनाथ के करीबी 

बता दें कि सलमान का जन्म 27 दिसम्बर 1965 को इंदौर के कल्याणमल नर्सिंग होम में हुआ था। मुंबई में जा बसने से पहले उनका परिवार इंदौर के ओल्ड पलासिया इलाके के पुश्तैनी मकान में रहता था। इस पॉश इलाके में उनके कुछ नजदीकी रिश्तेदार अब भी रहते हैं। उन्होंने अपने बचपन का काफी समय इंदौर में बिताया है। सलमान समय-समय पर इंदौर आते जाते भी रहे हैं और कई मौकों पर उन्होंने अपने इंदौर प्रेम को भी जाहिर किया है। सलमान का बचपन इंदौर के पलासिया पुलिस थाने के सामने मौजूद खान कैम्पस में गुजरा है। उनकी पढ़ाई सिंधिया स्‍कूल, ग्‍वालियर से हुई है जहां वे अपने भाई अरबाज खान के साथ पढ़ते थे। इसके बाद की पढ़ाई उन्‍होंने मुंबर्इ के बांद्रा इलाके में स्थित सेंटस्‍टैनिसलॉस हाईस्‍कूल से की थीं। सलमान खान 2009 में मेयर चुनाव के दौरान कांग्रेस प्रत्याशी पंकज संघवी के समर्थन में इंदौर में चुनाव प्रचार भी कर चुके हैं। इस दौरान उन्होंने आधे शहर में रोड शो किया था।इंदौर में सलमान की फैन फॉलोविंग काफी ज्यादा है। इसी के चलते इंदौर से उनके चुनाव लड़ने की मांग ने उठ रही है। वहीं मुख्यमंत्री कमलनाथ के सलमान से नजदीकी सम्बन्ध हैं और वह उनसे मिलते रहते हैं| सरकार के कामों की ब्रांडिंग और लोकसभा चुनाव में नाथ को सलमान का साथ लाभ दिला सकता है, क्यूंकि सलमान खान के फैंस हर जगह हैं|