MP में आज 5 नए केस, 6 दिनों में 58 मामले, CM बोले-खतरा टला नहीं, रोज प्रकरण आ रहे

CM शिवराज सिंह चौहान

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (MP Corona Update) में पिछले 24 घंटे में  फिर 5 नए केस सामने आए। इसमें जबलपुर में 3 और भोपाल-इंदौर में 1-1 नए संक्रमित मिले है, वही जबलपुर में कोरोना से एक महिला की मौत हो गई। हैरानी की बात तो ये है कि पिछले 6 दिनों में 58 नए केस सामने आए है, इसमें सबसे ज्यादा मामले जबलपुर से सामने आए है, जिसके बाद प्रदेश में एक्टिव केसों की संख्या 86 हो गई है।

यह भी पढ़े.. MP School : कक्षा 9वीं से 12वीं के छात्रों के लिए बड़ी खबर, होगा सर्वे, शिक्षकों को निर्देश जारी

राहत भरी खबर ये है कि रिकवरी रेट 98.66% और पॉजिटिविटी दर 0.01% हो गया है। प्रदेश में अब तक 7 लाख 92 हजार 90 लोग कोरोना संक्रमित हो चुके है। इनमें से 7 लाख 81 हजार 488 लोग ठीक हो चुके है। इनमें से 10 हजार 516 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है। रविवार को कोरोना से 6 मरीज ठीक हुए है।

वही आज राखी के मौके पर मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के सीएम शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chouhan) ने कहा कि प्रदेश में कोरोना नियंत्रित हुआ है, परन्तु पूरी तरह समाप्त नहीं हुआ है। अभी भी कोरोना के प्रकरण आ रहे हैं। घबराने की आवश्यकता नहीं। पूर्ण सावधानी बरतें तथा कोविड अनुकूल व्यवहार करें।प्रदेश में नियमित टीकाकरण के साथ ही आगामी 25 एवं 26 अगस्त को टीकाकरण महाअभियान चलाया जाएगा। 18 वर्ष के अधिक उम्र का हर पात्र व्यक्ति दोनों डोज अवश्य लगवाए।

यह भी पढ़े.. खुशखबरी: MP के संविदा कर्मचारियों को रक्षाबंधन का तोहफा, NHM ने जारी किए आदेश

आप सबके सहयोग से #COVID19 संक्रमण आज नियंत्रित है। लेकिन ध्यान रहे अभी यह समाप्त नहीं हुआ है। रोज कोरोना के पॉजिटिव प्रकरण आ रहे हैं। इसलिए सावधान रहने की आवश्यकता है। मेरी अपील है कि कोविड के संक्रमण को रोकने के अनुकूल अपना व्यवहार जरूर रखें।वैक्सीन कोविड से सुरक्षा का चक्र है। लेकिन वैक्सीन तभी पूरी तरह प्रभावी होती है, जब पहले डोज़ के बाद तय समय में दूसरा डोज़ लग जाए। 25 और 26 अगस्त को #MPVaccinationMahaAbhiyan2 चलेगा।

इससे पहले शनिवार को सीएम शिवराज सिंह ने कहा था कि कोरोना की तीसरी लहर को मध्य प्रदेश में आने से रोकने के लिए हम कटिबद्ध हैं। एक तो कोशिश होगी की लहर (Corona Third Wave) आएगी ही नहीं। दूसरी अगर आ भी जाए तो मुकाबले के लिए हम पूरी तरह तैयार हैं। हम वह समय कभी भूल नहीं सकेंगे। न हम सोये, न आप सोये। प्रदेश में ऑक्सीजन की तत्काल व्यवस्था के लिये उड़ीसा, छत्तीसगढ़, गुजरात और उत्तरप्रदेश से ऑक्सीजन बुलवाई गई।

यह भी पढ़े.. MP के इन सरकारी कर्मचारियों को बड़ी सौगात, इतनी बढ़कर मिलेगी सैलरी