आज चंबल एक्सप्रेस वे हाथ से गया तो नहीं करेगी आने वाली पीढ़ी माफ – राकेश चौधरी

भिण्ड//गणेश भारद्वाज. मुरैना नेहरू पार्क पर आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए जन संघर्ष मंच के संयोजक पूर्व मंत्री राकेश सिंह चतुर्वेदी ने कहा कि आज यदि हम सबने भिंड मुरैना के छूटे हुए हिस्से को चंबल एक्सप्रेस वे में नहीं जुड़वा पाने की कोशिश नहीं की तो आने वाली पीढ़ियां हमें कभी माफ नहीं करेगी। हमें हर हाल में, हर कीमत पर चंबल एक्सप्रेस वे में से जो हिस्सा हटाया गया है, चाहे वह भिंड का हो मुरैना का, उसे जुड़वाना ही होगा इसके लिए भोपाल से लेकर दिल्ली, जहां तक आंदोलन करना होगा वहां तक गांधीवादी तरीके से हम आंदोलन करेंगे और चंबल की आवाज को बुलंद करेंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि जिस प्रकार से महाभारत के समय भीष्म पितामह द्रोपदी का चीर हरण देखते रहे थे और उन्होंने उसका प्रतिकार नहीं किया था तो आज भी जनमानस उन्हें उस कृत्य के लिए माफ नहीं करता है। ऐसे ही आने वाले समय में हमारी आने वाली पीढ़ियां हमें माफ नहीं करेंगी।

अपने भाषण में राकेश सिंह चतुर्वेदी ने कहा कि एक्सप्रेस वे चंबल अंचल को विकास के पथ पर दौड़ाने के लिए एक बहुत ही महत्वाकांक्षी और बहुउद्देशीय परियोजना है। इससे चंबल क्षेत्र विकास के पथ पर तेजी से दौड़ सकेगा एक और जहां हम राजस्थान के कोटा और जयपुर से जुड़ जाएंगे तो वहीं दूसरी और हमारे वाहन बिहार और बंगाल तक आसानी से पहुंच सकेंगे। इसलिए केंद्र और राज्य दोनों ही सरकारों को चाहिए कि वे एक्सप्रेस वे का जो सपना हमें दिखाया है उसे पूरा करके दिखाएं।

जन संघर्ष मंच भिंड मुरैना के तत्वाधान में आज 2 सैकड़ा से अधिक चार पहिया वाहनों से हजारों लोग मुरैना पहुंचे और यहां पर एक सभा के आयोजन के बाद इकट्ठे हुए हजारों लोगों 3 किलोमीटर पैदल मार्च कर कमिश्नर कार्यालय पहुंचे और कमिश्नर को चंबल एक्सप्रेस वे में मुरैना और भिंड का छूटा हुआ हिस्सा जोड़े जाने की मांग को लेकर एक ज्ञापन सौंपा। बता दें कि यह ज्ञापन मुख्यमंत्री के नाम था।

ज्ञापन सौपे जाने वालों में जन संघर्ष मंच के संयोजक पूर्व मंत्री राकेश सिंह चतुर्वेदी पूर्व विधायक मुरैना बलवीर दंडोतिया, खेम चंद जैन, पूर्व डी. ई. ओ. गोपाल सिंह भदौरिया, पूर्व व्याख्याता आरएन तिवारी, अमर सिंह भदौरिया एसबी शर्मा डॉ तरुण शर्मा राहुल सिंह कुशवाह, अशोक जैन तेल वाले, सरपंच रामू सिंह कुशवाह शैलेश त्रिपाठी, नईम खां पठान , बंटी शर्मा,अश्वनी तिवारी, अश्वनी पुरोहित, सुनील त्रिपाठी, संदीप शर्मा, शशिकांत चतुर्वेदी, अभय पांडेय, राहुल यादव, गुल्लू चौधरी व हरि बाबा सिहोनिया सहित बड़ी संख्या में गणमान्य जन शामिल रहें। मुरैना में नेहरू पार्क पर आयोजित सभा का संचालन भिंड शहर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष रहीस खान के द्वारा किया गया।

जन संघर्ष के कार्यकर्ताओं का हुआ जोरदार स्वागत

जन संघर्ष मंच के काफिले का फ़ूप,जलपुरा, प्रतापपुरा, खडीत, कचनाव, गोरमी, पोरसा अम्बाह, दिमनी व मुरैना के प्रवेश द्वार पर जोरदार स्वागत हुआ। इन सब जगहों पर मोर्चा के संयोजक पूर्व मंत्री राकेश सिंह चतुर्वेदी को फूल मालाओं से लाद दिया और चंबल एक्सप्रेस वे में भिंड मुरैना जोड़ो- भिंड मुरैना जोड़ों के जोरदार नारे लगे।