सांवेर उपचुनाव : तुलसी सिलावट ने तोड़े सारे रिकॉर्ड, अब बनेंगे शिवराज सरकार में मंत्री

इंदौर, आकाश धोलपुरे। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) की सियासत के रथ पर एक बार सवार होकर BJP सत्ता तक जा पहुंची। प्रदेश में बीजेपी की पूर्ण बहुमत वाली सरकार बन गई है। हालांकि मतगणना (Counting)  के दौरान जितना ध्यान लोगो का डबरा (Dabra Assembly) और सागर (Sagar) के सुरखी उपचुनाव को लेकर था उतना ही ध्यान ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) के बेहद भरोसेमंद और खास समर्थक तुलसीराम सिलावट (Tulsi Ram Silvat) के राजनीतिक भविष्य को लेकर था।

उपचुनाव के एपिसेंटर सांवेर से ताल ठोकने वाले तुलसी राम सिलावट (Tulsi Silvat) मतगणना के पहले राउंड से ही बढ़त बनाये हुए थे और अंततः वो सांवेर विधानसभा में अब तक के ऐसे विधायक बन गए है जो सर्वाधिक 53264 मतों से विजयी हुए इतना ही नही उपचुनाव में सिलावट ही वो प्रत्याशी रहे जो प्रदेश की 28 सीटों में हुए उपचुनाव (By-election) में दूसरे नंबर पर ज्यादा मतों के अंतर से विजयी होने में कामयाब रहे है। उनके पहले सांची के प्रभुराम चौधरी ने जीत का आंकड़ा 63 हजार से आंकड़ा पार किया है।

सांवेर विधानसभा (Sanver Assembly Seat) के इतिहास पर गौर किया जाए तो यहां उपचुनाव के पहले 7 बार बीजेपी और 6 बार कांग्रेस काबिज रही वही कल आये परिणाम के बाद बीजेपी 8 दफा जीतकर सांवेर की जनता के दिल मे घर कर चुकी है। बता दे कि 1962 में सज्जन सिंह विश्नार कांग्रेस (Congress) से जीते थे और वही 2003 में बीजेपी के प्रकाश सोनकर ने 19637 मतों से सर्वाधिक मतों से जीत दर्ज की थी वही इस सीट पर 1990 में प्रकाश सोनकर महज 134 वोट के अंतर से जीते थे। वही ताजा उपचुनाव में तुलसीराम सिलावट की विन्रमता, शालीनता और समर्पण को न सिर्फ सांवेर की शहरी सीमा ने हाथों हाथ लिया बल्कि सांवेर के ग्रामीण क्षेत्र से भी उन्हें जनता का भरपूर आशीर्वाद मिला। वो एकमात्र ऐसे प्रत्याशी भी बन गए है जो सांवेर सीट दोनों प्रमुख दलों से चुनाव लड़कर जीते है।

इधर, सांवेर के मतदाताओं ने जहां तुलसीराम सिलावट को 129676 का जादुई आंकड़ा दिया तो कांग्रेस के प्रेमचंद गुड्डू को 76412 वोट तक सिमट कर रह गए। वही तीसरे नबंर बसपा को 2135 वोट मिले और चौथे नम्बर नोटा 1984 पर रहा याने 1984 मतदाताओं ने सभी 13 उम्मीदवारों को नापसंद कर दिया। बावजूद इसके बीजेपी के तुलसीराम सिलावट ने 60 प्रतिशत से अधिक मत हासिल कर कांग्रेस के जीत के दांवो की पोल खोल दी।

CM ने कहा था जनता विधायक बनायें, मंत्री मैं बनाऊंगा
उपचुनाव में प्रचार के शोर थमने के पहले सीएम शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने रोड़ के दौरान जनता को संबोधित करते हुए कहा था कि आप तुलसी सिलावट को विधायक बनाकर भेजे मंत्री तो मैं बना दूंगा और तुलसी जीते तो सीएम, बीजेपी और पीएम नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) की ताकत बढ़ेगी। इतना ही नही इसी दौरान उन्होंने एक बड़ी घोषणा भी की सांवेर में अगले 3 साल में कोई भी कच्चे मकान में नही रहेगा और ग्रामीण क्षेत्र में पानी नलों की टोटियों के जरिये घर घर पहुंचेगा।

जनता का जताया आभार
इंदौर के नेहरू स्टेडियम मतगणना स्थल पर पहले राउंड की बढ़त के बाद ही बीजेपी कार्यकर्ता जीत को निश्चित मान रहे थे और आखिर में हुआ भी वही। देर रात घोषित किये परिणाम के बाद विजयी हुए तुलसी सिलावट को रिटर्निंग अधिकारी आर. एस. मंडलोई ने निर्वाचन प्रमाण पत्र वितरित किया। इसके बाद सिलावट को विधायक रमेश मेंदोला, बीजेपी जिला अध्यक्ष डॉ. राजेश सोनकर, बीजेपी नगर अध्यक्ष गौरव रणदिवे, वरिष्ठ नेता मधु वर्मा, पूर्व विधायक सुदर्शन गुप्ता सहित समस्त बीजेपी कार्यकर्ताओ ने शुभकामनाएं दी।

वही जीत के बाद सांवेर विधायक तुलसीराम सिलावट ने कहा की ये लड़ाई साधु और शैतान की, गद्दार और खुद्दार की थी और जनता ने सिंधिया जी और हमारे निर्णय पर मोहर लगा दी।उन्होंने कहा कि ये जीत जनता और बीजेपी संगठन की है। वही शिव ज्योति (Shiv-Jyoti) की नई कल्पना और उद्देश्य बहुत आगे जाएगा। इसके पहले उन्होंने ये भी कहा कि अब प्रदेश में शैतानों की जगह नही बची है। इधर, तुलसीराम सिलावट की जीत के बाद देर रात भाजपा समर्थकों ने जमकर जश्न मनाया और दिवाली (Diwali) के पहले ही एक और दिवाली मना ली।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here