मंत्रियों के सामने नाराज लोगों का हंगामा, पुलिस से जमकर हुई झड़प

आगर मालवा|  जिले में उस समय हाई वोल्टेज ड्रामा देखने को मिला जब मध्य प्रदेश सरकार के 2-2 मंत्रियों की मौजूदगी में पुलिस के आला अधिकारियों और अपने परिवार के सदस्य की हत्या के बाद परिजनों को ही पुलिस द्वारा प्रताड़ना के कारण पुलिस से नाराज परिजनों के बीच जमकर हाथापाई हुई। हाथापाई के समय कलेक्टर और एसपी भी मौजूद थे। इस दौरान पुलिस के कुछ अधिकारी और जवान वहां मौजूद लोगों को खदेड़ते नजर आए तो दूसरी तरफ अपनी पीड़ा को प्रभारी मंत्री तक पहुंचाने के लिए एकत्रित हुए परिजनों को भी आक्रोशित मुद्रा में देखा गया।

मामले के अनुसार आगर मालवा जिले के सोयतकलां में सरकार की योजना अनुसार आपकी सरकार आपके द्वार के अंतर्गत कार्यक्रम हो रहा था जहां मध्य प्रदेश शासन के ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह के साथ नगरीय प्रशासन मंत्री और जिले के प्रभारी मंत्री जयवर्धन सिंह पहुँचे थे। कार्यक्रम की पहुँचते ही मंत्रियों को घेर कर कुछ महिलाएं व युवक हंगामा करने लगे। महिलाओ का आरोप था कि 28 सितंबर को सोयत में उनके परिवार के एक युवक की अज्ञात हमलावरों ने धारदार हथियार से निर्मम हत्या कर दी थी, पुलिस द्वारा हत्यारो को पकड़ने के बजाय उन्ही के परिवार के सदस्यों को प्रताड़ित कर रही है। मामले में हंगामे के बाद मंत्रियों के सीआईडी जांच के आश्वासन के बाद हंगामा कर रहे परिजन शांत हो गए। लेकिन पीड़ित लोग कार्यक्रम के समाप्ति के बाद एक बार फिर प्रताड़ित करने वाले पुलिसकर्मियों पर कार्यवाही की मांग करने लगे।

मामला यहीं नहीं रुका, प्रभारी मंत्री ने पीड़ित लोगों से कहा कि कुछ लोग आकर जहां में रुका हूं वहां मिले । प्रभारी मंत्री के बुलावे पर जब परिवार के लोग पहुंचे तो गेट पर मौजूद पुलिस ने कुछ महिलाओं के अंदर जाने के बाद बाकी लोगो को रोक दिया। ऐसी स्थिति में माहौल गर्मा गया। जहां एक ओर परिजन हंगामा करने लगे, प्रभारी मंत्री से मिलने की जिद पर अड़े थे वहीं दूसरी तरफ पुलिस प्रशासन उन्हें रोकने की पूरी कवायद में लगा था। इसी बीच मामला गर्मता गया। जिले के पुलिस प्रमुख एसपी जैसे ही गेट से बाहर आई उसी समय हंगामा और बढ़ गया। एक और परिजनों ने भी अपना आपा खो दिया तो दूसरी तरफ पुलिस के कुछ आला अधिकारियों के साथ पुलिस जवानों ने मौजूद लोगों के साथ धक्का-मुक्की कर उन्हें खदेड़ ना चालू कर दिया | 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here