world-tribal-day-

झाबुआ

विश्व आदिवासी दिवस पर आदिवासियों को साधने आज कमलनाथ सरकार झाबुआ में मेगा शो करने जा रही है।जिसमें मुख्यमंत्री कमलनाथ और कई मंत्री-विधायक यहां मौजूद रहेंगें।माना जा रहा है कि कमलनाथ आदिवासियों को लेकर बड़ी घोषणा कर सकते है।जाहिर है इस आयोजन की आड़ में कांग्रेस आदिवासियों को अपने साथ जोड़े रखना चाहती है। वैसे आदिवासी परंपरागत रूप से कांग्रेस का वोट बैंक रहा है। लेकिन लोकसभा चुनाव में वोटरों ने कांग्रेस से दूरी बना ली। इसीलिए अब पार्टी विश्व आदिवासी दिवस पर आयोजन के बहाने अपने परंपरागत वोट बैंक को सहेजने में जुट गई है।संभावना जताई जा रही है कि आज कमलनाथ बडे ऐलान भी कर सकते है।

दरअसल, 14  सालों का वनवास काट कांग्रेस को सत्ता दिलाने में आदिवासियों की भूमिका अहम रही।विधानसभा में आदिवासियों ने कांग्रेस के समर्थन में जमकर वोट किए लेकिन लोकसभा में पीछे हट गई।अब चुकी झाबुआ विधानसभा सीट पर उप चुनाव होना है। यहां से बीजेपी विधायक रहे जीएस डामोर ने सांसद बनने के बाद विधानसभा सदस्य से इस्तीफ दे दिया था। इस वजह से यह सीट खाली हुई है, दोनों ही दल अपनी अपनी साख बचाने के लिए पूरी तरह से जुट गए हैं। कमलनाथ सरकार ने पूरा फोकस झाबुआ पर कर लिया है। लिहाजा आदिवासियों को अपने पाले में लाने के लिए कांग्रेस जी जान से जुट गई है। इसी के चलते आज विश्व आदिवासी दिवस पर प्रदेश में पहली बार सार्वजनिक अवकाश की घोषणा की गई है।  

कर सकते है बड़ी घोषणा

माना जा रहा है आज मुख्यमंत्री अनेक घोषणाएं कर सकते हैं। कांग्रेस के वचन पत्र में आदिवासियों से संबंधित जितने वचन थे, उनमें से कुछ को पूरा करने के लिए 9 अगस्त से पहले कुछ आदेश जारी हो सकते हैं। इन वचनों को पूरा होने की घोषणा सीएम करेंगे। इसके साथ ही आदिवासी युवाओं को रोजगार और स्वरोजगार के लिए मुख्यमंत्री कोई नया ऐलान कर सकते हैं। 

छात्र-छात्राओं को किया जाएगा सम्मानित

कार्यक्रम में 10वीं और 12वीं क्लास में मैरिट में आने वाले आदिवासी छात्र-छात्राओं को रानी दुर्गावती और शंकर शाह पुरस्कार प्रदान किया जायेगा। साथ ही राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय खेलों में अच्छा प्रदर्शन के लिये आदिवासी खिलाड़ियों को भी पुरस्कृत किया जायेगा। इस मौके पर कई सांस्कृतिक कार्यक्रम भी पेश किए जाएंगे  साथ ही आदिवासी कल्याण के लिये प्रदेश में चलाये जा रहे कार्यकमों की जानकारी भी दी जायेगी, गौरतलब है कि राज्य शासन ने आदिवासी विकास दिवस पर 9 अगस्त को प्रदेश में सार्वजनिक अवकाश घोषित किया है।

सभी जिलों में होंगें कार्यक्रम

सीएम कमलनाथ ने पार्टी को सभी जिलों में आदिवासी दिवस मनाने के लिए निर्देशित किया है। इतना ही नहीं इस आयोजन में मंत्रियों को शामिल होने को भी कहा गया है। सरकारी आयोजनों के लिए एक लाख रुपए आंवटित किए गए हैं।