Dry Eyes से परेशान हैं तो ऐसे करें अपनी आंखों की देखभाल 

हेल्थ, डेस्क रिपोर्ट। आंखें हमारे शरीर का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है लेकिन इसमें बढ़ती जा रही Dry Eyes की समस्या से अधिकांश लोग परेशान हैं। कम्प्यूटर, लैपटॉप और मोबाइल फोन आज दिनचर्या का हिस्सा बन गए हैं और इनका अधिक उपयोग Dry Eyes Syndrome जैसी समस्या पैदा करता है।

क्या होता है Dry Eyes Syndrome

ड्राई आईज सिंड्रोम (Dry Eyes Syndrome) यानि ड्राई आईज (Dry Eyes) की समस्या युवा वर्ग को सबसे ज्यादा प्रभावित कर रही है।  इस समस्या में व्यक्ति को आंखों में सूखापन महसूस होने लगता है।  ये समस्या तब पैदा होती है जब आंख में आंसू बनना कम हो जाते हैं।

ये भी पढ़ें – बहुत ही कम लोग जानते हैं सूखे आंवले के सेवन के ये खास फायदे

Dry Eyes Syndrome  के लक्षण

जिस व्यक्ति को आंख में सूखापन (Dry Eyes) महसूस होता है उसे कुछ इन लक्षण पर ध्यान देना चाहिए।

  • आखों में चुभन, खंरोच या जलन महसूस होना।
  • अक्सर आंखों का लाल रहना।
  • आंखों से पानी आना।
  • कभी कभी धुंधला दिखाई देना।
  • प्रकाश के प्रति संवेदनशील होना।
  • तेज रोशनी में आंख खोलने में परेशानी महसूस होना।

ये उपाय हो सकते हैं मददगार

ये भी पढ़ें – दिग्विजय सिंह के खिलाफ शिवराज के मंत्री की मुहिम, जनता से कर रहे ये अपील   

आंखों को ब्रेक दें 

यदि आप पढ़ रहे हैं या कम्प्यूटर, लैपटॉप या मोबाइल का उपयोग कर रहे हैं तो एक नियमित अंतराल के बाद आंखों को आराम दें। कुछ सेकण्ड के लिए आंखें बंद कर लें। 15 मिनट में 15 सेकण्ड के लिए आंख बंद करना फायदेमंद होगा।

बार बार पलकें झपकाएं 

जब आप कम्प्यूटर, लैपटॉप या मोबाइल का उपयोग कर रहे हैं अथवा AC में बैठे हैं तो आंखों में सूखापन यानि Dry Eyes की समस्या अधिक हो सकती है, इसलिए इस दौरान बार बार पलकों को झपकाएं इससे आंखों में नमी बानी रहेगी।

तेज हवा से आंखों को बचाएं 

अपनी आंखों को तेज और सूखी हवा से बचाएं, AC , पंखे, कार हीटर्स, हेयर ड्रायर आदि से आंखों को बचाएं, इसके लिए हेड शील्ड अथवा बड़े ग्लास वाले चश्मे का इस्तेमाल कर सकते हैं।

काम करने वाली जगह पर्याप्त रोशनी हो

कम्प्यूटर, लैपटॉप या मोबाइल का आप जहाँ उपयोग कर रहे हैं इस बात का ध्यान रखें की उस जगह पर्याप्त रोशनी होनी चाहिए। कम्प्यूटर, लैपटॉप या मोबाइल की स्क्रीन आंखों के बहुत पास नहीं होनी चाहिए।

पोषक भोजन करें 

आप ऐसा भोजन करें जिसमें विटामिन A की मात्रा अधिक हो, हरी पत्तेदार सब्जी, गाजर आदि बहुत फायदेमंद होते हैं।  मछली, अखरोट आदि भी Dry Eyes की समस्या को होने से बचाता है।

Disclaimer – ऊपर दी गई जानकारी अलग अलग स्रोतों से जुटाई गई सामान्य जानकारी है।  आंखों में किसी भी तरह की समस्या होने पर आई स्पेशलिस्ट को चैक कराये और उनकी सलाह से उपचार लें।