काम करते करते आपको भी है गुनगुनाने की आदत, जानिए क्यों है ये फायदेमंद

गुनगुनाने से दिमाग की नसें और सेल्स में वाइब्रेशन होता है, जिस वजह से पूरा ब्रेन स्ट्रेस फ्री महसूस करता है। इस क्रिया से ऐसे कैमिकल चेंजेस आते हैं जिससे शरीर को एनर्जी मिलती है।

humming meditation

 हेल्थ, डेस्क रिपोर्ट।Humming Meditation. कुछ काम करते करते अनजाने में आप भी गुनगुनाने लगते होंगे। जब काम में बहुत ज्यादा मशगूल हों तो दिल यूं ही गुनगुनाने लगता है। इस आदत को अगर आप बस यूं ही कुछ भी समझ कर छोड़ देते हैं तो, अब ये जान लीजिए कि इसके पीछे भी साइंस है।साइंस ने आदत को हमिंग मेडिटेशन का नाम दिया है।

यह भी पढ़े.. गर्मियों में कितना फायदेमंद होता है पुदीना, जानकर हो जाएंगे हैरान

गाना गुनगुनाते हुए काम करने से काम बहुत आसानी से खत्म होता है। इसके अलावा स्ट्रेस भी कम होता है। दरअसल गुनगुनाने से दिमाग की नसें और सेल्स में वाइब्रेशन होता है, जिस वजह से पूरा ब्रेन स्ट्रेस फ्री महसूस करता है। इस क्रिया से ऐसे कैमिकल चेंजेस आते हैं जिससे शरीर को एनर्जी मिलती है, इसलिए जब मन करे खूब गुनगुनाएं और इसके फायदे भी जान लें।

क्या हैं हमिंग मेडिटेशन के फायदे

  • हमिंग मेडिटेशन करने से दिनभर का स्ट्रेस दूर होता है. इससे मन भी शांत रहता है।
  • दिमाग में खुशी का संचार होता है तो शरीर में हैप्पी हारमोन्स का लेवल बढ़ता है।
  • हमिंग मेडिशन से याददाश्त और कंस्ट्रेशन दोनों बढ़ता है।
  • जो लोग गुनगुनाते हुए काम करते हैं उनकी क्रिएटिविटी भी ज्यादा होती है।
  • हमिंग मेडिटेशन से नींद भी अच्छी आती है।

हमिंग मेडिटेशन करने का सही तरीका

  • एक आसान पर पालती मारकर बैठ जाएं, इस दौरान अपनी रीढ़ की हड्डी एकदम सीधी रखें।
  • अपनी आंखें बंद करें. अब बहुत धीरे धीरे सांस लेना शुरू करें।
  • अब सांस छोड़ने की प्रक्रिया शुरू करनी है. आपको ये ध्यान रखना है कि आपको गहरी सांस लेना है। बहुत धीरे धीरे सांस छोड़ते हुए गुनगुनाते जाना है। इस पूरी प्रक्रिया को कम से कम तीन बार करें।
  • सुबह हमिंग मेडिटेशन करके आप अपने दिमाग को दिनभर की ऊर्जा दे सकते हैं।