Monkeypox ने बढ़ाई चिंता, स्टडी में मिले 3 नए लक्षण, जानें इसके संक्रमण को लेकर क्या है विशेषज्ञों की राय

हाल ही में चिकित्सकों से अंतर्राष्ट्रीय सहयोग ने अपने एक अध्ययन में इस वायरस से संक्रमित लोगों में 3 नए लक्षणों को पाया है।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। दुनिया के कई देशों से होते हुए Monkeypox भारत में आ चुका है। अब तक कोरोना से हुए नुकसान से भारत उभरा नहीं था वहीं दूसरी तरफ मंकीपॉक्स के 4 मामले सामने आ चुके हैं। इस बात ने भारत सरकार की चिंता भी बढ़ा दी है। विश्व स्वास्थ संगठन ने भी मंकीपॉक्स को ग्लोबल हेल्थ एमर्जेंसी घोषित कर दिया है और इसपर जांच भी जारी है। पिछले अध्ययन में यह पाया गया था की मंकीपॉक्स कोरोना से कम संक्रामक है। पूरी दुनिया में अब तक 16,836 मामले सामने आ चुके हैं।

यह भी पढ़े… Motorola Razr 2022 इस दिन होगा लॉन्च, पहली बार मिलेगा किसी फोल्डेबल स्मार्टफोन में ऐसा प्रोसेसर, जानें

हाल ही में चिकित्सकों से अंतर्राष्ट्रीय सहयोग ने अपने एक अध्ययन में इस वायरस से संक्रमित लोगों में 3 नए लक्षणों को पाया है। ज्यादातर लोगों में रेशैज, बुखार, बदन दर्द और सिरदर्द जैसे लक्षण देखें जाते हैं, लेकिन इस स्टडी में मुंह में छाले, गुप्त भागों में स्किन प्रॉब्लम भी शामिल हैं। हालांकि यह भी कहा जा रहा है की यह वायरस सेक्स से फैलता है, लेकिन यह बात कितनी सच है, इसका पता अब तक नहीं लगाया जा पाया है। अध्ययन के दौरान शोधकर्ताओं ने पाया की दस में एक व्यक्ति के जेनेटिकल पार्ट में एक ही स्किन का घाव था। वहीं करीब 15% लोगों के मलाशय में दर्द था।

यह भी पढ़े… Realme Pad X और Watch 3 भारत में लॉन्च, मिल रहे हैं आकर्षक डिजाइन और बेहतरीन फीचर्स, जानें कीमत

कुछ लोगों के मुंह में छाले की शिकायत भी शिकायत भी देखी गई। यह सभी लक्षण काफी हद्द तक STD से मिलती-जुलती है, जो वायरस को कंट्रोल करने में रुकावट पैदा कर सकती है। वहीं विशेषज्ञों का यह कहना है की Monkeypox कोई ट्रेडीशनल सेक्सुअली ट्रांसमिटेड बीमारी नहीं है, यह किसी भी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने से फैलती है।

दिल्ली के गंगा राम हॉस्पिटल के सीनियर डॉक्टर धीरेन गुप्ता ने न्यूज एजेंसी से कहा की यह वायरस यौन संबंध के दौरान भी फैल सकता है। उन्होनें कहा की, “यह वायरस ऑरल कॉन्टेक्ट, ऐनल और वैजाइनल सेक्स, किसी संक्रमित व्यक्ति के गेनीटल्स को छूने से भी फैल सकता है। इसके अलावा इस वायरस का प्रसार गले लगने, चुंबन और मालिश करने या फिर लंबें समय तक साथ रहने से भी फैल सकता है।