National Cancer Awareness Day 2022 : कैंसर से बचाव के लिए अपनाएं स्वस्थ जीवनशैली, नियमित चेकअप जरुरी

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। आज राष्ट्रीय कैंसर जागरूकता दिवस (National Cancer Awareness Day 2022) है। कैंसर के प्रति लोगों को सचेत रहने और जगरूक करने के लिए आज का दिन मनाया जाता है। साल 2014 में स्वास्थ्य और कल्याण मंत्रालय मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने 7 सितंबर को नेशनल कैंसर अवेयरनेस डे मनाने की शुरुआत की थी। आज के दिन सरकारी अस्पतालओं में लोगों की फ्री स्क्रीनिंग की जाती है और उन्हें कैंसर से बचाव के बारे में बताया जाता है। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने आज के दिन स्वास्थ्य के प्रति जागरूक रहने का आह्वान करते हुए कहा है कि ‘हम सभी संतुलित जीवन शैली के साथ शुद्ध खानपान व व्यायाम से स्वस्थ समाज एवं राष्ट्र के निर्माण के स्वप्न को साकार कर सकते हैं।’

कर्मचारियों को फिर मिलेगी खुशखबरी! DA के बाद बढ़ सकता है एक और भत्ता, सैलरी में होगा इजाफा, जानें अपडेट

7 नवंबर को नोबेल पुरस्कार प्राप्त वैज्ञानिक मैडम मैरी क्यूरी का जन्मदिन भी होता है। उन्हें रेडियम और पोलोनियम की खोज और कैंसर के इलाज के उनके योगदान के लिए याद किया जाता है। पिछले कुछ समय में भारत में कैंसर एक बड़ी बीमारी के रूप में फैली है और न सिर्फ हमारे देश में बल्कि विश्व भर में इस घातक बीमारी को लेकर लगातार रिसर्च और स्टडी चल रही है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक इस साल कैंसर के कारण करीब 10 मिलियन लोग काल के मुंह में समा चुके हैं। दुनिया में कैंसर की बीमारी मौत की सबसे बड़ी वजह बनती जा रही है। खासकर ब्रेस्ट कैंसर और प्रॉस्टेट कैंसर के मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा हुआ है।

कैंसर के प्रति जागरूक रहने के साथ हमें कुछ लक्षणों के बारे में जानकारी होनी चाहिए। खून की कमी या एनीमिया, खांसी के दौरान खून का आना, स्तनों में गांठ, मेनोपॉज के बाद भी रक्तस्त्राव, अचानक शरीर के किसी भाग से रक्त निकलना, त्वचा में बदलाव, भूख की कमी लगना, किसी अंग का अधिक उभरना या गांठ महसूस होना, प्रोस्टेट के परीक्षण के असामान्य परिणाम जैसे कोई भी लक्षण महसूस होने पर तुरंत डॉक्टर को दिखाएं। हमारे देश में हर साल करीब 1.1 मिलिनय कैंसर के नए केस सामने आ रहा है। ओरल और लंग कैंसर से पुरुषों में मृत्यु दर 25% से अधिक हैं। वहीं महिलाओं में ब्रेस्ट कैंसर से होने वाली मौत का आंकड़ा भी 25% है। इसीलिए सही खानपान और जीवनशैली, एक्सरसाइज और प्रकृति के करीब रहना व नियमित चैकअप कराना जरुरी है। कैंसर जैसी घातक बीमारी से बचाव के लिए हमें एक हैल्दी लाइफस्टाइल अपनाना होगा।