रूम हीटर करते हैं इस्तेमाल हो जाइए सावधान

आप गर्माहट के लिए हर बार हीटर के भरोसे रहते हैं या ज्यादा समय हीटर के सामने बिताते हैं तो ये आपको कुछ नुकसान पहुंचा सकता है।

हेल्थ, डेस्क रिपोर्ट। कड़ाके की ठंड से बचने के लिए कई लोग हीटर का उपयोग करते हैं, जब ठंड ज्यादा होती है और सिर्फ स्वेटर या जैकेट से काम नहीं चलता तब कमरे में हीटर के अलावा कोई चारा भी नहीं बचता। वैसे कुछ लोग अलाव जलाना भी पसंद करते हैं, लेकिन अलाव जलाकर सोया नहीं जा सकता इसलिए हीटर ही बेहतर लगता है। अगर आप गर्माहट के लिए हर बार हीटर के भरोसे रहते हैं या ज्यादा समय हीटर के सामने बिताते हैं तो ये आपको कुछ नुकसान पहुंचा सकता है।

यह भी पढ़ें…EV : दस साल पुरानी डीजल गाड़ी को बनाएं इलेक्ट्रिक गाड़ी, बस इतने खर्च में होगा काम

ऐसे काम करता है हीटर

हीटर के फायदे नुकसान जानने से पहले ये समझें कि हीटर काम कैसे करता है। हीटर के अंदर मेटल की छड़ें लगी रहती हैं या सिरेमिक कोर होता है, जिनसे गर्म हवा निकलती है। इन्हीं हवाओं की वजह से कमरे का तापमान गर्म होता है। आपको गर्माहट देने वाली ये हवाओँ कमरे की नमी पूरी तरह सोख लेती हैं, जिससे हवा में सूखापन तो आता ही है कमरे की ऑक्सीजन भी जल जाती है।

हीटर से होने वाले नुकसान

हीटर की गर्माहट से नींद तो आ जाती है पर, ये अहसास नहीं होता कि हीटर से कमरे में क्या क्या बदलाव हो रहे हैं, जिसका नतीजा होता है धीरे धीरे नींद में कमी, मितली या सिरदर्द हो सकता है।अलग अलग तरह के हीटरो का ज्यादा प्रयोग करने से आप बीमार भी पड़ सकते हैं क्योंकि इससे निकलने वाले केमिकल या हवा में हो रहे बदलाव से अस्थमा या एलर्जी की शिकायत भी हो सकती है।

इन्हें सबसे ज्यादा खतरा

हीटर का खतरा उन लोगों को ज्यादा है जिन्हें पहले से ही अस्थमा या सांस से संबंधित कोई रोग हो। अगर ऐसी कोई परेशानी है तो हीटर से निश्चित दूरी बनाना जरूरी है। अस्थमा के अलावा आपको यदि ब्रोंकाइटिस या साइनस की समस्या होने पर भी आपको इससे नुकसान हो सकता है क्योंकि हीटर की हवा से गले में कफ बनता है। अगर ये कफ अंदर ही सूख जाए तो दवा लेने तक की नौबत आ सकती है।

एलर्जी होने पर

आपको अगर एलर्जी जल्दी हो जाती है या फिर कोई अस्थमा का मरीज है तो उसे ऑयल वाले हीटर उपयोग करने की सलाह दी जाती है ताकि, कमरे की हवा में ज्यादा सूखापन न आए। आप चाहें तो ह्यूमिडिफायर का उपयोग भी कर सकते हैं। ये हवा में नमी को मेंटेन रखते हैं जिससे सूखापन कम होता है।

गैस हीटर से सावधान

गैस हीटर का उपयोग करते समय सेहत से जुड़ी सावधानियों के साथ साथ अऩ्य सावधानियां रखनी जरूरी हैं। ऐसे हीटरों में से कार्बन मोनोऑक्साइड निकलती है जो सीधे लंग्स को नुकसान पहुंचाती है। इसके अलावा इन हीटर्स को पलंग पर या रजाई के अंदर रखने की भूल बिलकुल न करें क्योंकि इससे आग लगने की संभावनाएं भी बढ़ जाती हैं।

Disclaimer : यह जानकारी विभिन्न स्रोतों से प्राप्त करें प्रकाशित की गई है। अपनी स्वास्थ्य संबंधित सलाह डॉक्टर से लें उसके बाद उचित निर्णय लें।