World Mental Health Day 2021 : खुद से करें प्यार, अपने दिमाग को हेल्दी रखने के लिये अपनाएं ये ट्रिक्स

लोगों को मानसिक स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करने और संवेदनशील बनाने के उद्देश्य से ही हर साल 10 अक्टूबर को विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस (World Mental Health Day) मनाया जाता है।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। इस दौड़ती-भागती लाइफस्टाल में लोगों के लिये हेल्दी रहना अपने आप में एक चुनौती है। तेज रफ्तार की इस जिंदगी में स्ट्रेस, तनाव, एनज़ाइटी, अवसाद, डिप्रेशन इन सभी लक्षणों से ग्रस्त मानसिक बिमारी अब आम तौर पर लोगों में देखी जाने लगी है। मानसिक थकान हमें मानसिक तौर पर बीमार कर सकती है। अक्सर मानसिक तौर पर अस्वस्थ होने की ओर हमारा ध्यान नहीं जाता। कई बार पढ़ाई या काम के बोझ, रिश्ते में दरार, करियर जैसी कई चिंता हमें तनाव देती हैं और यदि यह लंबे समय तक रहा तो डिप्रेशन यानी अवसाद में तब्दील हो सकता है। ऐसे में मेंटल हेल्थ यानी मानसिक स्वास्थ्य के प्रति जागरुकता बेहद जरूरी है। लोगों को मानसिक स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करने और संवेदनशील बनाने के उद्देश्य से ही हर साल 10 अक्टूबर को विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस (World Mental Health Day) मनाया जाता है।

ये भी पढ़ें- Navratri 2021: शून्य से उबारती है नवरात्रि – प्रवीण कक्कड़

हालांकि सदियों से दरकिनार किए जाने के बाद हमारी मानसिक स्थिति और अवसाद पर धीरे-धीरे अधिक ध्यान दिया जा रहा है। मेंटल हेल्थ अवेयरनेस पर काम करने वाली संस्थाओं द्वारा किए गए सर्वे के अनुसार मेंटल हेल्थ की समस्या से जूझ रहे लोगों में 80 से 90 परसेंट की बढ़ोतरी हुई है। इससे अवसाद बढ़ने, डिप्रेशन, बायपोलर डिसऑर्डर जैसी गंभीर समस्याएं धीरे-धीरे व्यक्ति को घोटती हैं जिससे उसका मनोबल टूट जाता है और वो खुद को हारा हुआ महसूस करता है। ऐसे में वर्लड मेंटल हेल्थ डे के मौके पर आज हम आपको बताएंगे कि कैसे आप अपने शरीर के साथ-साथ मेंटल हेल्थ का भी ध्यान रख सकते हैं और स्वयं में बदलाव करते हुए कैसे खुद को इस अवसाद की बीमारी से दूर रख सकते हैं।

पॉज़िटिव रखें अपनी सोच

सकारात्मकता जीवन के लिये एक अहम हिस्सा है। कैसी भी परिस्थिति आ जाए लेकिन आप अपने विचारों को पॉजिटिव रखें। यह करना आसान नहीं होगा लेकिन अभ्यास करते-करते आपको सकारात्मक सोचने की आदत जरूर पड़ जाएगी। इससे चिंता, स्ट्रेस, तनाव में सकारात्मक सोच आपकी परेशानियों को आप पर हावी नहीं होने देती।

नींद के पैटर्न में सुधार

अच्छी नींद बहुत महत्वपूर्ण है। जब आप चैन की नींद सोते हैं तो आपका मन और शरीर दोनों ठीक हो जाते हैं। कुल मिलाकर, यह आपको शारीरिक, भावनात्मक और मानसिक रूप से फिट रहने में मदद करता है। अपने शरीर को आराम दे और अच्छी नींद लें।

अपनी भवनाओं को करें शेयर

अक्सर लोग अपने इमोशन्स, अपनी भावनाएं या मन के भीतर उथल-पुथल मचा रही ऐसी बातें शेयर नहीं करते जिससे ये आपके लिये चिंता और बढ़ा देती हैं। ऐसी बातें जो आपको तनाव दे रही हैं उन्हें छुपाने के बजाय जरूरत लगने पर किसी करीबी से शेयर करना चाहिए। इससे आपका मन हल्का हो जाएगा।

अच्छा खान-पान है जरूरी

एक बेहतर डाइट आपके शारीरिक ही नहीं बल्कि मानसिक शक्तियों को दुरुस्त करने के लिये भी जरूरी है। अच्छा भोजन व आहार आपकी इम्युनिटी को बढ़ाता है साथ ही ये मानसिक तौर पर भी असर करता है। इस दौड़ती-भागती जीवनशैली में संतुलित और पौष्टिक आहार जरूर अपनाएं।

योग से रखें मेंटल हेल्थ फिट

सदियों से चला आ रहा योग अब पूरे विश्व में प्रसिद्ध हो चुका है। योग शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद होता है। नियमति रूप से ध्यान करने से आपकी मेंटल हेल्थ तो दुरुस्त रहती है ही, साथ ही आपकी क्रिएटिविटी भी बढ़ती है। कई ऐसे आसान हैं जो आपको दिमागी रूप से स्वस्थ रखने में मददगार होते हैं।