विदेश।

जापान में कई कंपनियों ने एक अजीबोगरीब नियम जारी किया है, जिसके तहत ऑफिस में महिलाएं चश्मा नहीं लगा सकेंगी। खास बात ये कि ये नियम केवल महिलाओं पर लागू होगा और इसके पीछे जो वजह बताई जा रही है वो भी उतनी ही अजीब है। इन कंपनियों ने कहा है कि चश्मा लगाने से महिलाओं की सुंदरता छिप जाती है और कम सुंदर दिखने का असर उनके क्लाइंट्स पर पड़ता है जिस कारण कई बार उनके व्यवसाय में नुकसान भी होता है। इस तरह के नियम लागू करने वाले में एयरलाइंस से लेकर रेस्टोरेंट्स क्षेत्र की कई निजी कंपनियां शामिल हैं। 

इस नियम के लागू होने के बाद से इसपर विवाद खड़ा हो गया है। बड़ी तादाद में महिलाओं ने सोशल नेटवर्किंग साइट्स के जरिए इसे लेकर विरोध जाहिर किया है। सोशल साइट्स पर हैशटैग ग्लासेज आर फॉरबिडन के नाम से चर्चा जरूर शुरू हो गई है। महिलाएं इसे पक्षपातपूर्ण और दकियानूसी सोच का उदाहरण बता रही है, साथ ही इस नियम से ये मैसेज भी मिल रहा है कि महिलाओं के लिए सबसे ज़रूरी सुंदर दिखना ही है, इस तरह कार्यस्थल पर उन्हें भी एक वस्तु की तरह पेश करने की कोशिश हो रही है। एक तरफ जहां महिलाएं अपनी बौद्धिकता और मेहनत के बल पर अपना मुकाम हासिल करने की कोशिशों में लगी है, वहीं इस तरह के ऊटपटांग फैसले ने एक बार फिर जेंडर इक्वेलिटी और सेंसेटिविटी को लेकर बहस छेड़ दी है।