रूस में कोरोना जैसा वायरस मिलने से हड़कंप, वैज्ञानिकों ने किए ये दावे

इस कोरोना वायरस जैसे वायरस को लेकर रुस के वैज्ञानिकों ने कुछ दावा किया है। तो आइए जानते हैं कितना खतरनाक है यह वायरस और कितनी तबाही मचा सकता है। 

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट | वैश्विक महामारी कोरोना ने पूरी दुनिया में तबाही मचाई थी। इस दौरान लाखों की संख्या में लोग रोजाना अपने जीवन से हाथ धो रहे थे। इस महामारी के कारण लोगों ने एक-दूसरे से मिलना तक बंद कर दिया था। सभी देशों में लॉकडाउन लगा दिया गया था, जिससे महामारी को फैलने से रोका जा सके। जिसके कारण सभी देशों को बहुत ज्यादा आर्थिक नुकसान हुआ था। इस तबाही से अभी भी ऊभरा नहीं जा सका है इसी बीच रुस से कोरोना जैसा ही खतरनाक वायरस एक बार फिर से पाया गया है। इस खबर ने एक फिर दुनिया को हिलाकर रख दिया है। बता दें कि इस कोरोना वायरस जैसे वायरस को लेकर रुस के वैज्ञानिकों ने कुछ दावा किया है। तो आइए जानते हैं कितना खतरनाक है यह वायरस और कितनी तबाही मचा सकता है।

यह भी पढ़ें – MP: लापरवाही पर बड़ा एक्शन, शिक्षक-पटवारी समेत 56 सस्पेंड, 3 के लाइसेंस निलंबित

दरअसल, रूस के वैज्ञानिकों ने चमगादड़ में खोस्ता-2 नाम नामक वायरस की पुष्टि की है जोकि लोगों में बीमारी फैलाने में सक्षम है। वैज्ञानिकों का दावा है कि लोगों में भी इस वायरस का असर देखा जाएगा क्योंकि यह कोरोनावायरस से भी ज्यादा पावरफुल बताया जा रहा है। साल 2020 में कोरोना काल के दौरान ही इस वायरस की पुष्टि की गई थी। उस वक्त वैज्ञानिकों ने रिसर्च में पाया था कि अब इंसानों को नुकसान नहीं पहुंचाएगा लेकिन, नए रिसर्च के बाद इस बात का दावा किया जा रहा है कि यह वायरस बहुत जल्द पूरी दुनिया के लिए खतरा बन सकता है।

यह भी पढ़ें – Navratri Special 2022 : बिहार में इस माता की होती है बाईं आंख की पूजा, जानिए वजह

इस वायरस को चमगादड़ ही नहीं बल्कि रैकून कुत्ते समेत कई जंगली जानवर और पक्षियों में पाया जा रहा है। बता दें कि यह बीमारी कोरोना महामारी से भी ज्यादा खतरनाक साबित हो सकती है क्योंकि इससे लड़ने की क्षमता इंसान के बस में नहीं है। यह बहुत ही ज्यादा खतरनाक और शक्तिशाली संक्रमित वायरस है।

यह भी पढ़ें – माँ त्रिपुर सुंदरी का यह मंदिर है खास, राजा कर्ण की कुलदेवी करती है हर मन्नत पूरी

वहीं, इस वायरस को लेकर पूरी दुनिया में वैज्ञानिक अलर्ट हो चुके हैं और वैज्ञानिक सभी वैज्ञानिकों ने इस बीमारी से लड़ने के लिए और इसे जड़ से खत्म करने के लिए वैक्सीन डोज तैयार करने में लगे हुए हैं। इससे बचने के लिए लोगों को मास्क पहनकर बाहर जाने की सलाह दी गई है। लोग नियमित रूप से किसी भी सार्वजनिक स्थान पर मास्क का प्रयोग करने, खाना खाने से पहले हाथ धोकर खाए, बाहर से घर आने पर कपड़े जरूर धोएं। इन सब नियमों का पालन करके इस वायरस को खतरनाक रूप लेने से रोका जा सकता है।

यह भी पढ़ें – CG Weather: फिर बदलेगा मौसम, आज बूंदाबांदी के आसार, मानसून की विदाई जल्द, जानें विभाग का पूर्वानुमान