Kuwait Building Fire : कुवैत की बिल्डिंग में लगी भीषण आग, भारतीयों समेत 41 की मौत, पीएम मोदी ने जताया दुख

भारतीय मजदूरों से जुड़ी आग की दुखद घटना के संबंध में दूतावास ने एक इमरजेंसी हेल्पलाइन नंबर +965-65505246 जारी किया है।

Amit Sengar
Published on -
Kuwait Building Fire

Kuwait Building Fire : कुवैत के मंगाफ शहर में बुधवार को एक इमारत में भीषण आग लग गई है। जिसमें 41 लोगों की मौत हो गई और 30 घायल हो गए। इन मरने वालों में 40 भारतीय शामिल हैं। लेकिन अब तक इन भारतियों की मौत की आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई। वहीं भारतीय दूतावास ने कहा कि आग की घटना में 30 से अधिक भारतीय श्रमिक घायल हो गए। बता दें कि कुवैत के स्थानीय समयानुसार यह घटना सुबह 6 बजे की है। मिली जानकारी के अनुसार, एक वरिष्ठ पुलिस कमांडर ने बताया कि जिस इमारत में आग लगी, उसका इस्तेमाल मजदूरों के आवास के लिए किया जाता था और वहां बड़ी संख्या में मजदूर मौजूद थे।

क्या है पूरा मामला

बता दें कि कुवैत के दक्षिणी अहमदी प्रांत के मंगाफ इलाके में छह मंजिला इमारत के ग्राउंड फ्लोर की रसोई में लगी आग तेजी से पूरी बिल्डिंग में फ़ैल गई। इस घटना के दौरान कई लोग इस बिल्डिंग में फंसे रह गए। लेकिन आग लगने का कारण अब तक पता नहीं चला है। इधर अधिकारियों ने आग लगने के कारणों की जांच शुरू कर दी है। बताया जा रहा है कि इमारत में करीब 160 लोग रहते थे, जो एक ही कंपनी के काम किया करते थे।

कुवैत में भारतीय दूतावास ने जारी किया हेल्पलाइन नंबर

कुवैत में भारतीय दूतावास ने X पर एक पोस्ट में कहा, ‘भारतीय मजदूरों से जुड़ी आग की दुखद घटना के संबंध में दूतावास ने एक इमरजेंसी हेल्पलाइन नंबर +965-65505246 जारी किया है। सभी संबंधित लोगों से अनुरोध है कि वे अपडेट के लिए इस हेल्पलाइन नंबर से जुड़ सकते है। और दूतावास हर संभव सहायता उपलब्ध कराएगा।

प्रधानमंत्री मोदी ने जताया दुख

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने X पर लिखा कुवैत शहर में आग लगने की घटना दुखद है। मेरी संवेदनाएं उन सभी के साथ हैं जिन्होंने अपने प्रियजनों को खोया है। मैं प्रार्थना करता हूं कि घायल जल्द से जल्द ठीक हो जाएं।’ कुवैत में भारतीय दूतावास स्थिति पर बारीकी से नजर रख रहा है और प्रभावितों की सहायता के लिए वहां के अधिकारियों के साथ काम कर रहा है।

भारत के विदेश मंत्री ने जताया दुख

कुवैत शहर में हुए आग लगने की घटना पर भारत के विदेश मंत्री डॉ. एस. जयशंकर ने X पर लिखा, कि ‘आग लगने की घटना बहुत ही दुखद है जिससे गहरा सदमा लगा है। कथित तौर पर 40 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है और 50 से अधिक को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जिनका इलाज जारी है। हमारे राजदूत शिविर में गए हैं। हम आगे की जानकारी का इंतजार कर रहे हैं। इस हादसे में दुखद रूप से अपनी जान गंवाने वालों के परिवारों के प्रति मेरे गहरी संवेदनाएं है। घायलों के शीघ्र और पूर्ण स्वस्थ होने की कामना करता हूं। हमारा दूतावास इस संबंध में सभी संबंधित लोगों को पूरी सहायता प्रदान करेगा।’

कुवैत के आंतरिक मंत्री शेख फहाद अल-यूसुफ अल-सबाह ने पुलिस को मंगाफ इमारत के मालिक को गिरफ्तार करने के आदेश दे दिया है। मंत्री ने घटनास्थल का दौरा करने के बाद एक बयान में कहा, कि ‘आज जो कुछ हुआ, वह रियल स्टेट मालिक के लालच की वजह से ऐसी घटनाएं होती हैं। ज्यादा किराए के लालच में बिल्डिंग मालिक एक ही कमरे में कई लोगों को ठहराते हैं। इस दौरान इमारत की सुरक्षा व्यवस्था को ताक पर रख दी जाती हैं। उन्होंने भविष्य में ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए सभी तरह के सुरक्षा इंतजाम पूरे करने के आदेश दिए है।


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News