सोशल डिस्टेंस काल में मानवीय स्पर्श का अहसास, किया ये अनूठा इजाद

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। बीमारी में दवा के अलावा अपनों का साथ बेहद महत्वपूर्ण है। लेकिन कोरोना ऐसी बीमारी है जो मरीज को एकदम अकेला कर देती है। संक्रमण के खतरे के कारण कोरोना होते ही व्यक्ति को सबसे अलग थलग होना पड़ता है। ऐसे में भावनात्मक रूप में कई बार मरीज खुद को अकेला महसूस करने लगता है। इसी समस्या को लेकर ब्राजील (Brazil) की कुछ नर्सों (nurse) ने ऐसा तरीका इजाद किया, जिसकी अब हर जगह सराहना हो रही है।

ये भी देखिये – बढ़ते कोरोना के चलते इंदौर पुलिस भी सतर्क, सुरक्षा के लिए अमल में लाया जा रहा है यह प्लान

आइसोलेशन में रह रहे मरीजों को मानवीय स्पर्श का अहसास कराने के लिए ब्राजील की नर्सों ने अनूठे दस्ताने बनाए हैं। ये दो डिस्पोजेबल दस्ताने (disposable gloves) हैं जो एक दूसरे से बंधे हैं और गर्म पानी से भरे हुए हैं। सादिक समर भट नाम के गल्फ के पत्रकार ने इन दस्तानों को लेकर एक भावुक ट्वीट शेयर किया है। इन दस्तानों को उन्होने भगवान के हाथ (The hand of God) कहा है और इनका अविष्कार करने वाली नर्सों के जज़्बे को सलाम किया है।

ऐसे समय में जब दुनिया में हर कोई अकेला है, कोविड 19 महामारी ने लोगों को और दूर कर दिया है। सोशल डिस्टेंस और आइसोलेशन के विकट समय में इंसान एक दूसरे के स्पर्श को महसूस नहीं कर पा रहा। ऐसे में इस तरह के छोटे छोटे लेकिन महत्वपूर्ण इजाद जहां लोगों को भावनात्मक संबल प्रदान करते हैं, वहीं ये भी साबित करते हैं आज भी ऐसे लोग हैं दुनिया में जिन्हें भावनाओं की, संवेदनाओं की कीमत है और ऐसो लोगों के कारण ही दुनिया सुंदर बनी हुई है।