कौन है ऋषि सुनक, जिनकी पत्नी के पास है महारानी से भी ज्यादा संपत्ति!

ऋषि सुनक ने 2015 से अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत की, जहां वह पहली बार यॉर्कशायर के रिचमंड से सांसद के रूप में संसद पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने ब्रेक्सिट का समर्थन किया, जिससे पार्टी में उनका रुतबा और बढ़ गया।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। भारतीय मूल के ऋषि सुनक बहुत जल्द ब्रिटेन के प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ले सकते हैं। उन्होंने देश की सत्तारूढ़ कंजरवेटिव पार्टी से प्रधानमंत्री बनने के लिए 88 मतों के साथ मतदान के पहले दौर में जीत हासिल कर ली है। इससे पहले वह ब्रिटेन सरकार में वित्त मंत्री एवं चांसलर रह चुके है।

इससे पहले वह ब्रिटेन के प्रधानमंत्री पद की जिम्मेदारी संभाले, आइये एक नजर डालते है उनके निजी जीवन पर –

इंग्लैंड में हुआ जन्म

ऋषि सुनक का जन्म 12 मई 1980 को इंग्लैंड के साउथम्पैटन में हुआ था। भारतीय मूल के परिवार में जन्मे सुनक तीन भाई-बहनों में सबसे बड़े थे। उनका फैमिली बैकग्राउंड मेडिसिन से जुड़ा हुआ रहा है। उनके पिता डॉक्टर, जबकि उनकी मां केमिस्ट थी। लेकिन शायद मेडिसिन में ऋषि की कोई दिलचस्पी नहीं थी इसलिए उन्होंने पहले विंस्चेस्टर कॉलेज से राजनीति विज्ञान की पढ़ाई की और फिर ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से फिलोसॉफी और इकॉनोमिक्स में डिग्री हासिल की।

2015 से शुरू हुआ राजनीतिक सफर

ऋषि सुनक ने 2015 से अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत की, जहां वह पहली बार यॉर्कशायर के रिचमंड से सांसद के रूप में संसद पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने ब्रेक्सिट का समर्थन किया, जिससे पार्टी में उनका रुतबा और बढ़ गया।

ये भी पढ़े … सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़ और मेरे, सबके साथ ऐसा हुआ है…, कोहली की फॉर्म को लेकर गांगुली का बड़ा बयान

सुनक बोरिस जॉनसन के कंजरवेटिव पार्टी के नेता बनने के अभियान में उनके समर्थन में थे, यही कारण था जो बोरिस जॉनसन ने प्रधानमंत्री बनने के बाद सुनक को ट्रेजरी के मुख्य सचिव (वित्त मंत्री) के रूप में नियुक्त किया। इसके बाद फरवरी 2020 में उन्होंने ब्रिटेन के चांसलर के रूप में काम किया। इस दौरान कोविड के समय लिए गए उनके निर्णयों ने पार्टी के अंदर और मजबूती के साथ स्थापित किया, जिसका नतीजा यह निकला कि वह अब देश की बागडोर संभालने की पूरी-पूरी तैयारी में है।

इंफोसिस के फाउंडर के दामाद हैं सुनक

ऋषि सुनक की पत्नी अक्षता मूर्ति भारत के मशहूर टेक दिग्गज और इंफोसिस के फाउंडर एनआर नारायणमूर्ति की बेटी है। अक्षता के पास लगभग एक अरब डॉलर यानी 7600 करोड़ रुपये मूल्य के इंफोसिस के शेयर मौजूद हैं। इस हिसाब से वह इंग्लैंड की महरानी एलिजाबेथ से भी अमीर हैं क्योंकि एक रिपोर्ट के मुताबिक, महरानी के पास कुल निजी संपत्ति 460 मिलियन डॉलर यानी 3400 करोड़ रुपये के करीब है।

ये भी पढ़े … पीएम बनने की रेस में ऋषि सुनक ने पहले दौर में हासिल की जीत

बता दें, ऋषि सुनक और अक्षता मूर्ति की पहली मुलाकात स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में हुई थी, जिसके बाद वह करीब आए और उन्होंने शादी कर ली। फिलहाल, उनके दो बच्चे है, जिनके नाम कृष्णा और अनुष्का हैं।