Government Jobs:  भारतीय नौसेना में निकली 224 पदों पर भर्ती, 29 अक्टूबर तक करें आवेदन, जान लें पात्रता और नियम

Government Jobs: भारतीय नौसेना  (Indian Navy Recruitment) ने शॉर्ट सर्विस कमीशन ऑफिसर के पद पर जून-2024 कोर्स के लिए भर्ती निकाली है। आवेदन प्रक्रिया शुरू भी हो चुकी है। इच्छुक उम्मीदवार 29 अक्टूबर 2023 तक आवेदन कर सकते हैं। रिक्त पदों की संख्या कुल 224 है। 100 पर टेक्निकल ब्रांच, 18 पद एजुकेशनल ब्रांच और 106 पद एग्जीक्यूटिव ब्रांच में खाली हैं।

पात्रता और चयन प्रक्रिया

एग्जीक्यूटिव ब्रांच के लिए उम्मीदवारों के पास बैचलर इन इंजीनियरिंग या बीटेक की डिग्री होना अनिवार्य होगा। साथ ही 60% अंकों का होना भी अनिवार्य होगा। टेक्निकल ब्रांच के लिए भी बीई या बीटेक की डिग्री 60% अंकों के साथ होना अनिवार्य होगा। इसके अलावा एजुकेशनल ब्रांच में आवेदन करने के लिए उम्मीदवारों के पास निर्धारित क्षेत्र में M.Sc में 60% अंक लाना अनिवार्य होगा। अंकों के आधार पर उम्मीदवारों का को शॉर्ट लिस्ट किया जाएगा। जिसके बाद उन्हें इंटरव्यू के लिए बुलाया जाएगा। चयनित कैंडिडेट्स को भारतीय नौसेना अकादमी एजिमाला, केरल में नियुक्त किया जाएगा। अतिरिक्त जानकारी के लिए एक बार आधिकारिक अधिसूचना (Official Notification Link ) जरूर देखें।

ऐसे करें आवेदन

  • आवेदन करने के लिए सबसे पहले भारतीय नौसेना के ऑफिसियल वेबसाइट joinindiannavy.gov.in पर जाएं।
  • “अप्लाई ऑनलाइन सिलेक्शन” पर जाकर “एप्लीकेशन” लिंक पर क्लिक करें।
  • रजिस्ट्रेशन करके रजिस्ट्रेशन आईडी और पासवर्ड प्राप्त करें।
  • लॉग इन क्रेडेंशियल को दर्ज करके आवेदन पत्र सही से भरें।
  • जरूरी दस्तावेजों को अपलोड करें।
  • एप्लीकेशन फीस का भुगतान करें।
  • फॉर्म को सबमिट करें।

 


About Author
Manisha Kumari Pandey

Manisha Kumari Pandey

पत्रकारिता जनकल्याण का माध्यम है। एक पत्रकार का काम नई जानकारी को उजागर करना और उस जानकारी को एक संदर्भ में रखना है। ताकि उस जानकारी का इस्तेमाल मानव की स्थिति को सुधारने में हो सकें। देश और दुनिया धीरे–धीरे बदल रही है। आधुनिक जनसंपर्क का विस्तार भी हो रहा है। लेकिन एक पत्रकार का किरदार वैसा ही जैसे आजादी के पहले था। समाज के मुद्दों को समाज तक पहुंचाना। स्वयं के लाभ को न देख सेवा को प्राथमिकता देना यही पत्रकारिता है। अच्छी पत्रकारिता बेहतर दुनिया बनाने की क्षमता रखती है। इसलिए भारतीय संविधान में पत्रकारिता को चौथा स्तंभ बताया गया है। हेनरी ल्यूस ने कहा है, " प्रकाशन एक व्यवसाय है, लेकिन पत्रकारिता कभी व्यवसाय नहीं थी और आज भी नहीं है और न ही यह कोई पेशा है।" पत्रकारिता समाजसेवा है और मुझे गर्व है कि "मैं एक पत्रकार हूं।"

Other Latest News