MP Recruitment : युवाओं के लिए अच्छी खबर, तीन चरणों में भरे जाएंगे तृतीय श्रेणी के 31000 से अधिक पद, मिलेगा लाभ

मध्य प्रदेश में 1 लाख पदों पर भर्ती की प्रक्रिया में तत्परता दिखाई जा रही है। इससे पहले सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा वित्त विभाग को प्रस्ताव भेजा गया था। जिस में रिक्त पदों की अधिकतम भर्ती सीमा 5% को बढ़ाने के प्रस्ताव तैयार किए गए थे। साथ ही तृतीय श्रेणी के 31000 पदों पर तीन चरण में भर्ती पूरी की जाएगी।

MP Recruitment  मध्य प्रदेश के युवाओं के लिए बड़ी खबर है। प्रदेश के 1 लाख पदों पर शासकीय भर्ती आयोजित की जाएगी। दरअसल डेढ़ साल में 1 लाख शासकीय पदों पर होने वाली भर्ती को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा बड़े ऐलान किए गए थे। जिस पर प्रक्रिया शुरू की गई है।

अगले महीने गृह मंत्रालय द्वारा 7500 पदों पर पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा का आयोजन किया जाएगा। इसके साथ ही 18527 प्राथमिक शिक्षकों के पद भरे जाने की प्रक्रिया को भी शुरू किया गया है। अब तृतीय श्रेणी के पदों पर तीन चरणों में भर्तियां पूरी होगी।

तृतीय श्रेणी के कुल 31000 से अधिक पद भरे जाएंगे

तृतीय श्रेणी के कुल 31000 से अधिक पद भरे जाएंगे। मध्यप्रदेश में तृतीय श्रेणी के 31883 पदों पर भर्ती प्रक्रिया का आयोजन किया जाना है। 2022-23 में 28465 पदों पर भर्ती देखने को मिलेगी। वहीं 2023-24 में 2057 और 2024-25 में 1361 पद भरे जाएंगे।

सामान्य प्रशासन विभाग ने भेजा प्रस्ताव

  • दरअसल भर्ती की अधिकतम सीमा को बढ़ाए जाने को लेकर सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा वित्त विभाग को प्रस्ताव भेजा गया था।
  • जिस पर वित्त विभाग द्वारा एक बार फिर से अधिकतम भर्ती की सीमा 5% को बढ़ाने की भी सहमति दी गई है।
  • नियम के तहत जिन विभागों में स्वीकृत संवर्ग के पद 50 से कम है वहां एक ही बार में भर्ती प्रक्रिया को पूरा किया जाना है।
  • जिन संवर्ग में 51 से 500 पद होंगे। वहां इसकी पूर्ति दो चरण में की जानी है।
  • इसके अलावा ऐसे संवर्ग जहां पद 500 से अधिक है। वहां 3 चरणों में भर्ती प्रक्रिया का आयोजन किया जाना है।

जारी नियम के तहत 2022-23 में पहले चरण की प्रक्रिया के तहत 50% सीटों को भरा जाएगा। वही 2023-24 में से 50% पदों पर भर्ती प्रक्रिया आयोजित की जाएगी।

कितने हैं रिक्त पद

जानकारी के मुताबिक मध्यप्रदेश में राज्य संवर्ग के चार लाख 59 हजार 552 पद स्वीकृत हैं। जिनमें से तीन लाख 57 हजार 726 पद भरे हुए जबकि एक लाख 1 हजार 958 पद रिक्त हैं। जिन्हें भरा जाना है। इन पदों में से 21000 से अधिक पद बैकलॉग के हैं। जबकि अन्य पद प्रथम, द्वितीय और तृतीय श्रेणी के रिक्त पड़े हुए हैं।