पुलिस कांस्टेबल के 6,000 पदों पर निकली भर्ती, 21 मार्च तक करें आवेदन, जानें पात्रता, वेतन और नियम

हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग ने 6000 कांस्टेबल पदों के लिए भर्ती अधिसूचना जारी की है। महिला और पुरुष उम्मीदवार ऑनलाइन बिना किसी फीस के आवेदन कर सकते हैं।

Manisha Kumari Pandey
Published on -
police constable recruitment

Police Constable Recruitment: हरियाणा पुलिस विभाग में कांस्टेबल पदों पर बंपर भर्ती निकली है। इस संबंध में हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग ने नोटिफिकेशन भी जारी किया है। जिसके मुताबिक कुल 6000 पदों पर भर्ती होगी। इसमें से 5000 पद पुरुष और 1000 पद महिला उम्मीदवारों के लिए खाली हैं। यदि आप पुलिस विभाग में काम करने की इच्छा रखते हैं तो 20 फरवरी से लेकर 21 मार्च तक आवेदन कर सकते हैं।

योग्यता और आयु सीमा

आवेदन करने के लिए उम्मीदवारों का किसी भी मान्यता प्राप्त स्कूल/बोर्ड/संस्थान से 12वीं पास होना अनिवार्य है। मैट्रिक में हिन्दी या संस्कृत के साथ पास होना भी जरूरी है। निर्धारित आयु सीमा न्यूनतम 18 वर्ष और अधिकतम 25 वर्ष है।

चयन प्रक्रिया और वेतन

कैंडीडेट्स का चयन 5 चरणों में आयोजित परीक्षाओं के आधार पर होगा। स्टेज 1 परीक्षा यानि कॉमन एन्ट्रेंस टेस्ट (CET) ग्रुप-सी परीक्षा को पास करना जरूरी होगा। परीक्षा 94.5 अंकों की होगी, इसमें 100 प्रश्न पूछे जाएंगे। नेगेटिव मार्किंग का प्रावधान नहीं है। चयनित उम्मीदवारों के लिए शारीरिक माप परीक्षण (PMT), फिजिकल स्क्रीनिंग टेस्ट (PST) और नॉलेज टेस्ट का आयोजन होगा। NCC और सामाजिक आर्थिक मानदंड को अतिरिक्त भार मिलेगा। नियुक्ति के बाद लेवल 3, सेल 1 के तहत 21,700 रुपये वेतन मिलेगा। अतिरिक्त जानकारी के लिए आधिकारिक अधिसूचना देखने की सलाह दी जाती है।

police constable recruitment

ऐसे करें आवेदन

इच्छुक उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट hssc.gov.in पर जाकर भर्ती के लिए आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए वेबसाइट पर जाकर “adv012024.hryssc.com पर क्लिक करें। आवेदन पत्र को सही से भरें। जरूरी दस्तावेजों को अपलोड करें। फॉर्म को जमा करें। भविष्य के संदर्भ में आवेदन पत्र का एक प्रिन्ट आउट निकाल कर अपने पास रख लें। एप्लीकेशन के लिए किसी प्रकार के शुल्क का भुगतान करने की जरूरत नहीं है।

 


About Author
Manisha Kumari Pandey

Manisha Kumari Pandey

पत्रकारिता जनकल्याण का माध्यम है। एक पत्रकार का काम नई जानकारी को उजागर करना और उस जानकारी को एक संदर्भ में रखना है। ताकि उस जानकारी का इस्तेमाल मानव की स्थिति को सुधारने में हो सकें। देश और दुनिया धीरे–धीरे बदल रही है। आधुनिक जनसंपर्क का विस्तार भी हो रहा है। लेकिन एक पत्रकार का किरदार वैसा ही जैसे आजादी के पहले था। समाज के मुद्दों को समाज तक पहुंचाना। स्वयं के लाभ को न देख सेवा को प्राथमिकता देना यही पत्रकारिता है। अच्छी पत्रकारिता बेहतर दुनिया बनाने की क्षमता रखती है। इसलिए भारतीय संविधान में पत्रकारिता को चौथा स्तंभ बताया गया है। हेनरी ल्यूस ने कहा है, " प्रकाशन एक व्यवसाय है, लेकिन पत्रकारिता कभी व्यवसाय नहीं थी और आज भी नहीं है और न ही यह कोई पेशा है।" पत्रकारिता समाजसेवा है और मुझे गर्व है कि "मैं एक पत्रकार हूं।"

Other Latest News