10वीं पास युवाओं के लिए नौकरी का सुनहरा मौका, उत्तर पूर्वी रेलवे में निकली 1104 पदों पर भर्ती, 24 दिसंबर तक करें आवेदन

UPSC Recruitment

Railway Recruitment 2023: यदि आप रेलवे में नौकरी की तलाश कर रहे हैं तो आपके लिए नॉर्थ ईस्टर्न रेलवे में सुनहरा मौका लेकर आया है। आरआरसी गोरखपुर ने कुल 1104 पदों पर भर्ती निकाली है। अप्रेंटिस पदों पर पर उम्मीदवारों की भर्ती की जाएगी। जनरल के लिए 454, ओबीसी के लिए 294, ईडब्ल्यूएस के लिए 110, एसटी के 81 और एससी के लिए 165 पद रिक्त हैं।

पात्रता

भर्ती प्रक्रिया अप्रेंटिस एक्ट 1961 और अप्रेंटिसशिप रूल्स 1962 के तहत आयोजित हो रही है। 50% अंकों के साथ दसवीं पास और आईटीआई डिप्लोमा की योग्यता वाले उम्मीदवार आवेदन कर सकते हैं। उम्मीदवारों के लिए निर्धारित आयु सीमा न्यूनतम 15 वर्ष और अधिकतम 24 वर्ष है। अतिरिक्त जानकारी के लिए आधिकारिक अधिसूचना देखने की सलाह दी जाती है। (Official Notification Link)

आवेदन प्रक्रिया

आवेदन प्रक्रिया 24 दिसंबर 2023 तक जारी रहेगी। इच्छुक उम्मीदवार ऑफिशल वेबसाइट ner.indianrailways.gov.in पर जाकर आवेदन कर सकते हैं। एप्लीकेशन फीस ₹100 है। महिलाओं के साथ-साथ एससी एसटी,ईडब्ल्यूएस और पीडब्ल्यूडी उम्मीदवारों आवेदन शुल्क से मुक्त किया गया है। नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करके आप आसानी से भर्ती के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

  • सबसे पहले नॉर्थ ईस्टर्न रेलवे के ऑफिसियल वेबसाइट ner.indianrailways.gov.in पर जाए।
  • होम पेज पर दिए गए एप्लीकेशन लिंक पर क्लिक करें।
  • आवेदन पत्र को अच्छे से भरकर जरूरी दस्तावेजों को जमा करें।
  • शुल्क का भुगतान करें और फॉर्म को सबमिट करें। इसके बाद भविष्य में इस्तेमाल के लिए एप्लीकेशन फॉर्म का एक प्रिंटआउट निकाल कर अपने पास रख ले।

About Author
Manisha Kumari Pandey

Manisha Kumari Pandey

पत्रकारिता जनकल्याण का माध्यम है। एक पत्रकार का काम नई जानकारी को उजागर करना और उस जानकारी को एक संदर्भ में रखना है। ताकि उस जानकारी का इस्तेमाल मानव की स्थिति को सुधारने में हो सकें। देश और दुनिया धीरे–धीरे बदल रही है। आधुनिक जनसंपर्क का विस्तार भी हो रहा है। लेकिन एक पत्रकार का किरदार वैसा ही जैसे आजादी के पहले था। समाज के मुद्दों को समाज तक पहुंचाना। स्वयं के लाभ को न देख सेवा को प्राथमिकता देना यही पत्रकारिता है। अच्छी पत्रकारिता बेहतर दुनिया बनाने की क्षमता रखती है। इसलिए भारतीय संविधान में पत्रकारिता को चौथा स्तंभ बताया गया है। हेनरी ल्यूस ने कहा है, " प्रकाशन एक व्यवसाय है, लेकिन पत्रकारिता कभी व्यवसाय नहीं थी और आज भी नहीं है और न ही यह कोई पेशा है।" पत्रकारिता समाजसेवा है और मुझे गर्व है कि "मैं एक पत्रकार हूं।"

Other Latest News