सरकारी नौकरी पाने का सुनहरा मौका, यहां 6500 से ज्यादा पदों पर निकली है भर्ती, जल्द करें अप्लाई

आवेदन करने के लिए जरूरी है कि कैंडिडेट ने किसी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से बी.कॉम या एम.कॉम की डिग्री ली हो, वही सीए किए उम्मीदवार भी अप्लाई कर सकते हैं। इसमें एज लिमिट 21 से 45 साल तक निर्धारित की गई है।

jobs

Bihar Accountant Cum IT Assistant Recruitment 2024: बिहार में सरकारी नौकरी पाने का सुनहरा मौका है। बिहार सरकार के पंचायत राज विभाग ने बिहार ग्राम स्वराज योजना सोसायटी में अकाउंटेंट कम आईटी असिस्टेंट के 6500 से ज्यादा पदों पर भर्ती निकाली है।आवेदन की प्रक्रिया जारी है और लास्ट डेट 29 मई है। इच्छुक उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट state.bihar.gov.in पर जाकर नोटिफिकेशन को डाउनलोड कर सकते हैं। वहीं आवेदन की प्रक्रिया शुरू होने पर उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट bgsys.bihar.gov.in पर जाकर रजिस्ट्रेशन को पूरा कर सकते हैं।

Bihar IT Assistant Recruitment 2024

  • कुल पद– 6570
  • पदों का विवरण-4270 पद पुरुष और 2300 पद महिला । 1643 पद जनरल, 657 पद ईडब्ल्यूएस, 1313 पद एससी, 131 पद एसटी, 1643 पद ईबीसी, 1183 पद बीसी कैटेगरी के उम्मीदवारों के लिए रिजर्व ।
  • आयु सीमा- अधिकतम आयु पुरुष उम्मीदवारों के लिए 45 वर्ष एवं महिला अभ्यर्थियों के लिए 48 वर्ष तय की गई है। ऊपरी आयु सीमा में छूट नियमानुसार प्रदान की जाएगी।अभ्यर्थी की न्यूनतम आयु 21 वर्ष तय की गई है। आयु की गणना 1 मार्च 2024 के आधार पर की जाएगी।
  • योग्यता- आवेदन के लिए अभ्यर्थी ने कॉमर्स से बैचलर डिग्री (बीकॉम) या मास्टर डिग्री इन कॉमर्स (एमकॉम) या सीए इंटर लेवल उत्तीर्ण किया हो।
  • आवेदन शुल्क- जनरल, ओबीसी एवं ईडब्ल्यूएस श्रेणी के उम्मीदवारों को आवेदन पत्र के साथ 500 रुपये का आवेदन शुल्क जमा करना होगा। एससी, एसटी, पीएच एवं महिला अभ्यर्थियों को 250 रुपये शुल्क का भुगतान करना होगा।
  • चयन प्रक्रिया-इन पदों पर उम्मीदवारों को चयनित होने के लिए सीबीटी बेस्ट एग्जाम, डाक्यूमेंट्स वेरिफिकेशन जैसी प्रक्रियाओं से गुजरना पड़ेगा।
  • जरूरी दस्तावेज : 12वीं, ग्रेजुएशन पास या सीए की मार्कशीट,जाति प्रमाण पत्र,निवास प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र,पासपोर्ट साइज फोटो,आधार कार्ड,समग्र आईडी,बैंक पासबुक इत्यादि।

About Author
Pooja Khodani

Pooja Khodani

खबर वह होती है जिसे कोई दबाना चाहता है। बाकी सब विज्ञापन है। मकसद तय करना दम की बात है। मायने यह रखता है कि हम क्या छापते हैं और क्या नहीं छापते। "कलम भी हूँ और कलमकार भी हूँ। खबरों के छपने का आधार भी हूँ।। मैं इस व्यवस्था की भागीदार भी हूँ। इसे बदलने की एक तलबगार भी हूँ।। दिवानी ही नहीं हूँ, दिमागदार भी हूँ। झूठे पर प्रहार, सच्चे की यार भी हूं।।" (पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर)

Other Latest News