बीजेपी को बड़ा झटका, भाजपा नेत्री ने थामा हाथ

2783

कटनी। वंदनी तिवारी। 

मध्य प्रदेश में जैसे-जैसे विधानसभा चुनाव नजदीक आ रहे हैं वैसे-वैसे राजनीतिक सरगर्मियां तेज हो रही हैं। मतदान का दिन नजदीक आते-आते नेताओं के पार्टी बदलने का सिलसिला जोरों पर है। भाजपा इसे लेकर ज्यादा मुश्किलों का सामना कर रही है। एक के बाद एक भाजपा नेता चुनाव से पहले कांग्रेस में शामिल हो रहे हैं। शनिवार को कटनी जिले की बहोरीबंद से जिला पंचायत सदस्य और भाजपा नेत्री  विद्या पटेल कांग्रेस में शामिल हो गईं। 

कटनी में पीसीसी अध्यक्ष कमलनाथ ने उन्हें समर्थकों समेत कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण करनाई। उन्होंने भाजपा पर कई गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि यह पार्टी दौलत की है, इसलिए मैं इस पार्टी में नहीं रह सकती। इस दौरान जनसभा को संबोधित करते हुए कमलनाथ ने भाजपा और शिवराज को आड़े हाथों लेते हुए पूछा आप कैसे किसान के बेटे हैं जहां आपने किसाने के पेट पर मारी लात और छाती पर गोली। आप कैसे किसान के बेटे हैं। उन्होंने कहा कि किसान मंडी में खड़ा रहता है। उसे दो दो दिन पैसा नहीं मिलता। इसलिए कांग्रेस ने साफ कर दिया है। हर किसान का कर्जा माफ और दस दिन के अंदर माफ, पूरी बिजली और बिल हाफ और भाजपा साफ। 

गौरतलब है कि शुक्रवार का दिन भी भारी उथल पुथल भरा रहा था। एक तरफ जहां देश के दिग्गज नेताओं ने प्रदेश में सभाएं की वहीं कई नेताओं ने भाजपा छोड़ दी कुछ ने कांग्रेस छोड़कर भाजपा का दामन थाम लिया।

जबलपुर 

पश्चिम विधानसभा में कांग्रेस को बड़ा झटका उस समय लगा जब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राममूर्ति मिश्रा सीएम की जनसभा में पहुंचे और भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर ली। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राममूर्ति मिश्रा को माला पहनाकर उनका स्वागत किया और फिर मंच से उनकी तारीफ की। सीएम ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि राममूर्ति कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हैं और सभी उनका बहुत आदर करते हैं, उनके भाजपा में शामिल होने से पार्टी को ताकत मिलेगी।

रायसेन 

चुनाव से पहले शिवराज कैबिनेट के मंत्री सुरेंद्र पटवा को बड़ा झटका लगा| भाजपा की वरिष्ठ नेत्री और मंडीदीप नगरपालिका की पूर्व अध्यक्ष पूर्णिमा राजा जैन कांग्रेस में शामिल हो गई| पूर्णिमा राजा जैन ने समर्थकों के साथ कांग्रेस के महासचिव प्रदेश प्रभारी दीपक बावरिया, पूर्व केंद्रीय मंत्री सुरेश पचौरी, मीडिया प्रभारी शोभा ओझा, संग़ठन प्रभारी चंद्रप्रभाष शेखर, राजीव सिंह की उपस्थिति में पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। आय से अधिक संपत्ति मामले में जैन के घर पर लोकायुक्त का छापा पद चुका है| 5 करोड से ज्यादा की अघोषित संपत्ति का तब खुलासा हुआ था वहीं पार्षदों ने भी पूर्णिमा पर पैसे मांगने का आरोप लगाया था| पचौरी भोजपुर से पटवा के सामने कांग्रेस के प्रत्याशी हैं और क्षेत्र में उनकी राजनीती की तूती बोलती है|  पूर्णिमा जैन को कांग्रेस में शामिल कराने में उनकी बड़ी भूमिका रही।

गुना

गुना जिले में भाजपा को बड़ा झटका लगा है| बीजेपी के सर्व शिक्षा अभियान की प्रदेश कार्यसमिति के सदस्य बल्लू काला पहाड़ कांग्रेस में शामिल हो गए| बल्लू काला पहाड़ ने चाचौड़ा विधानसभा में बीजेपी की तरफ से टिकट को लेकर दावेदारी पेश की थी, लेकिन टिकट न मिलने से नाराज रहे थे बल्लू काला पहाड़ कुछ दिनों तक खामोश रहे लेकिन अचानक बीनागंज के कुसुमपुरा में पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह कांग्रेस प्रत्याशी लक्ष्मण सिंह और अन्य कार्यकर्ताओं के बीच कांग्रेस में शामिल हो गए और जिस पार्टी मैं अभी तक थे उसी पार्टी के खिलाफ बगावत पर उतर आए।

शहडोल 

जिले की जयसिंहनगर विधानसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी की विधायक प्रमिला सिंह ने भाजपा छोड़ कांग्रेस का दामन थाम लिया। नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने उन्हें समर्थकों समेत कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण करवाई। उन्होंने जिला कांग्रेस कार्यालय में एक सादे समारोह में यह सदस्यता ली। बताया जा रहा है कि सिंह जयसिंहनगर विधानसभा से टिकट मांग रहीं थीं, लेकिन उनकी जगह जैतपुर के भाजपा विधायक जय सिंह मरावी को पार्टी ने मैदान में उतार दिया, जिसके चलते वे नाराज चल रहीं थीं। पार्टी से बगावत करने के बजाए उन्होंने किनारा करना ही बेहतर समझा। अब वह कांग्रेस प्रत्याशी के लिए प्रचार करेंगी। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here