CAA के समर्थन में यहां निकली विशाल जनसमर्थन रैली, 15 हजार से अधिक लोग हुए शामिल

329

खंडवा। सुशील विधानि।

खन्डवा जिले में नागरिक संशोधन कानून के समर्थन में विशाल तिरंगा रैली निकाली गई। पूरे जिले से करीब 15 हजार से भी अधिक लोगो ने पहुँच कर इस रैली को अपना समर्थन देते हुए इसमें भाग लिया । वीडियो और फोटो ग्राफी कराईधारा 144 लागू होने की वजह से जूलूस की वीडियो और फोटो ग्राफी कराई गई है। धारा-144 जिले के खंडवा, हरसूद, पंधाना, मूंदी और ओंकारेश्वर नगरों की सीमा के भीतर लागू है। इसके अलावा सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट या टिप्पणी करने वालों के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी। साइबर कैफे संचालकों को आदेशानुसार दस्तावेजों का रिकॉर्ड व अन्य नियमों का पालन करना होगा।

पूरी रैली के दौरान इसकी ड्रोन की निगरानी करने के साथ ही बड़ी मात्रा में पुलिस बल रैली के साथ उपस्थित रहा वहीं कलेक्टर और एसपी के साथ ही अन्य पुलिस तथा प्रशासनिक अधिकारी भी मुस्तेद रहे। पुरानी कृषि उपज मंडी से शुरू होकर नगर के प्रमुख मार्गों से होती हुई यह रैली बॉम्बे बाजार घंटाघर चोक होते हुए वापस मंडी पहुँची जहां अंत मे भारत माता की आरती के साथ इस रैली का समापन हुआ है। हाथों में तिरंगा लेकर हजारों लोग खंडवा के प्रमुख मार्गों पर निकले, लेकिन ना कोई नारेबाजी थी और न कोई शोर-शराबा। सब अनुशासनात्मक तरीक से इन्होंने तिरंगा यात्रा निकाली।

नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के समर्थन में खंडवा के प्रमुख मार्गों से कारवां निकला तो देखने के लिए लोगों की भीड़ जमा हो गई। एक अनुमान के मुताबिक करीब 15 हजार लोग तिरंगा यात्रा में शामिल हुए हैं। संशोधित नागरिकता कानून (सीएए ) शुक्रवार देर रात लागू हो गया है। केन्द्र ने इसके लिए नोटिफिकेशन जारी कर दिया है। नोटिफिकेशन जारी होते है ही देशभर में यह कानून लागू हो गया है। वहीं, नागरिकता संशोधन कानून लागू होने के बाद खंडवा में निकाली गई तिरंगा यात्रा के मद्देनजर भारी सुरक्षा बंदोबस्त रहे। तिरंगा यात्रा के अंत यानि समापन पर राष्ट्रगान हुआ।

सांसद नंदकुमारसिंह चौहान 

नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में शनिवार को खंडवा में हुई रैली व तिरंगा यात्रा में शामिल होने के लिए सांसद नंदकुमारसिंह चौहान भी आए। विधायक विजय शाह, देवेंद्र वर्मा, राम दांगोरे सहित अन्य नेताओं और जनप्रतिनिधियों ने भी उपस्थिति दर्ज कराई। बता दें कि बुरहानपुर में बीते दिनों निकली तिरंगा यात्रा में सांसद नंदकुमारसिंह चौहान, पूर्व मंत्री अर्चना चिटनिस सहित अन्य पर केस दर्ज हो गया था।घंटाघर क्षेत्र में मिले दो सिरे सीएए के समर्थन में निकली तिरंगा यात्रा जब घंटाघर से बॉम्बे बाजार होते हुए आगे बढ़ी तो एक दौर ऐसा भी आया जब पहला सिरा वापस घंटाघर पर आ गया तो वहीं दूसरा सिरा भी घंटाघर से ही आगे बढ़ रहा था। कई सामाजिक संगठनों और संस्थाओं के लोगों सहित शहरवासियों ने इस तिरंगा यात्रा में उपस्थिति दर्ज कराई।

हर गली का रास्ता किया बंद

तिरंगा यात्रा निकलने से पहले प्रशासन व पुलिस ने भी कड़े बंदोबस्त किए। शहर के प्रमुख मार्गों की हर गली से निकलने वाले रास्ते को बैरीकेडिंग के माध्यम से बंद कर दिया गया। सुरक्षा बंदोबस्त के मद्देनजर ये कदम उठाया गया। इस वजह से लोगों को अन्य रास्तों से गुजरना पड़ा। गौरतलब है कि यहां जुलूस व तिरंगा यात्रा को अनुमति नहीं दी गई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here