आदिवासी विभाग की सहायक आयुक्त के घर लोकायुक्त का छापा, कार से मिले 1.60 लाख

1984
Lokayukta's-print-at-the-assistant-commissioner's-home-of-tribal-department

खरगोन

मध्यप्रदेश के खरगोन जिले में देर रात आदिवासी विभाग की सहायक आयुक्त शकुंतला डामोर के सरकारी आवास पर लोकायुक्त की टीम ने पहुंच कर दबिश दी है। बताया जा रहा है यह कार्रवाई किशनगंज पुलिस ने गुरुवार रात पिगडंबर (महू-इंदौर के बीच) फोर लेन टोल नाके पर शंकुन्तला डामोर की गाड़ी से 1 लाख 60 हजार की राशि जब्त करने के बाद की गई है। वहीं पुलिस ने सहायक आयुक्त के इंदौर, खरगोन स्थित आवासों पर भी छापा मारा है।

दरअसल, स्थानीय पुलिस को खबर मिली थी कि डामोर अपनी कार (एमपी 10 सीए 4610) से खरगोन से इंदौर की ओर आ रही थीं और उसमें कैश रखा हुआ है। पुलिस ने यह खबर इंदौर लोकायुक्त की टीम को दी ।टीम ने गुरुवार रात पिगडंबर (महू-इंदौर के बीच) फोर लेन टोल नाके पर जनजाति कार्य विभाग की सहायक आयुक्त शकुंतला डामोर की कार रोकी। तलाशी लेने पर उसमें एक लाख 60 हजार की रकम बरामद हुई।इसके बाद पुलिस ने रतलाम के बिरियाखेड़ी क्षेत्र स्थित आवास पर लोकायुक्त पुलिस की चार सदस्यीय टीम ने देर रात दबिश दी।  पुलिस ने शंकुन्तला डामोर के परिजनों से पूछताछ भी की है। इस कार्रवाई में पुलिस को कई दस्तावेज भी हाथ लगे हैं जिसे लोकायुक्त पुलिस ने जांच के लिए जब्त किया है। फिलहाल इंदौर लोकायुक्त पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

उल्लेखनीय है कि डामोर बाजना (रतलाम) की निवासी हैं। उनके पति मानसिंह डामोर सैलाना के हायर सेकंडरी स्कूल में लेक्चरार है।बड़ा बेटा डॉ विजेंद्र डामोर  हड्डी रोग विशेज्ञ है और रतलाम मेडिकल कालेज में पदस्थ है।वही  छोटा बेटा जयंत डामोर  पुलिस विभाग में सब इंस्पेक्टर है और वर्तमान में उज्जैन के नीलगंगा पुलिस थाने में पदस्थ है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here