वर्कआउट करने में आता है आलस, इन फन एक्टिविटीज के जरिए करें वेटलॉस

एक्सपर्ट की सलाह के बाद ही वेटलॉस का ये तरीका चुनें।

जीवनशैली, डेस्क रिपोर्ट। वेटलॉस करना है या फिर फिट रहना है तो उसकी पहली शर्त है वर्क आउट करना, रोज सुबह उठ कर एक ऐसी नियमित दिनचर्या का पालन करना जरूरी है जो आपके वेटलॉस रूटिन को मेंटेन रखे. कुछ लोग इस रूटिन को पूरे डिसिप्लीन के साथ फॉलो करते हैं, पर कुछ ऐसे भी होते हैं जो वजन तो घटाना चाहते हैं लेकिन वर्कआउट करने में आलस करते हैं, वेटलॉस के ऐसे ख्वाहिशमंद कुछ फन एक्टिविटीज के जरिए अपनी कोशिश जारी रख सकते हैं।

यह भी पढ़े…रात की ये खराब आदतें आपकी फिटनेस पर पड़ सकती हैं भारी, जल्द करें तौबा

बैडमिंटन खेलें
अगर आप सुबह उठ कर वर्कआउट नहीं कर सकते तो, बैडमिंटन खेलने की आदत डालें, ये याद रखें कि कम से कम चालीस मिनट तक आपको खेलना ही है, ये ऐसा खेल है जिसमें पूरे शरीर की स्ट्रेचिंग भी होती है और मेहनत मशक्कत भी पूरी होती है, इसलिए ये खेल वेटलॉस के लिए कारगर माना गया है।

यह भी पढ़े…33 गांवों में गिरता भू-जल स्तर बना चिंता का विषय, पता लगाने आई वैज्ञानिकों की टीम

साइकलिंग करें
सुबह या शाम को तकरीबन एक घंटा साइकलिंग करें, साइकलिंग का फायदा ये है कि आप जहां तक चाहें वहां तक सैर भी कर सकते हैं, रोज नए नए रास्ते चुन सकते हैं, जिससे वर्कआउट वाली बोरियत भी नहीं होगी।

यह भी पढ़े…काढ़ा बनाने में ये गलतियां, इम्यूनिटी बढ़ाने की जगह कर देंगी नुकसान

डांस करें
अगर से बाहर जाने का मन ही न हो तो डांस करें, वैसे जुम्बा या एरोबिक्स भी इसका विकल्प हो सकते हैं, ये भी न करना चाहें और तेज धुन पर थिरकने का शौक हो तो पावर भांगड़ा करें, ये डांसिंग स्टाइल तो विदेशों तक में फेमस है, कम से कम आधा घंटा पूरी ताकत से भांगड़ा करें और अपने वजन पर उसका असर देखें।

यह भी पढ़े…कोरोना केसों पर सरकार की बड़ी तैयारी, राज्य शासन ने कलेक्टर्स और CMHO को जारी किए संशोधित दिशा-निर्देश

स्वीमिंग करें
स्वीमिंग एक ऐसी एक्टिविटी है जो कम समय में बेहतर रिजल्ट देती है, ये सलाह भी जाती है कि वॉक कम से कम चालीस मिनट करना जरूरी है, अगर स्वीमिंग करते हैं तो वॉर्मअप के बाद पंद्रह मिनट पूरी ताकत से स्वीमिंग करना काफी होगा, स्वीमिंग कमर दर्द और शरीर की स्ट्रेचिंग में भी फायदेमंद है।

यह भी पढ़े…सीएम शिवराज की बड़ी घोषणा- हर महीने मनाया जाएगा रोजगार दिवस, अधिकारियों को मिले बैकलॉग के पदों पर नियुक्ति के निर्देश

रस्सी कूदें
रस्सी कूद कर भी आप वेटलॉस में सकारात्मक नतीजे हासिल कर सकते हैं, लेकिन ये वर्कआउट तब ही काम आएगा जब आपके घुटने मजबूत हों, अगर घुटनों में जरा सा भी दर्द रहता हो तो एक्सपर्ट की सलाह के बाद ही वेटलॉस का ये तरीका चुनें।