अगर आपके ओंठ या नाक के पास है तिल तो हो सकती है ये परेशानियां, जीवन पर पड़ता है ये प्रभाव

शरीर पर तिल (Mole) होने का अलग-अलग महत्व बताया गया है। ऐसे में अगर किसी व्यक्ति के नाक (Nose) और ओठ (Lips) पर तिल होता तो इससे वह आदमी मुश्किलों में घिरा हुआ रहता है।

Mole

शरीर पर तिल (Mole) होने का अलग-अलग महत्व बताया गया है। ऐसे में अगर किसी व्यक्ति के नाक (Nose) और ओठ (Lips) पर तिल होता तो इससे वह आदमी मुश्किलों में घिरा हुआ रहता है। इसके पीछे कई सारी वजह बताई गई है। आपको बता दे, नाक और ओठ पर अगर तिल होता है तो वह बेहद दुखी होता है। साथ ही इसके जीवन में लगातार परेशानियां बनी हुई रहती है।

इन लोगों की बदनामी भी होती है। ऐसे लोग अपने कार्यक्षेत्र में बड़ी साजिश का शिकार हो जाते है। इतना ही नहीं इनसे बचने के लिए वह गलत कार्य भी करने लगते है। ज्योतिषों के मुताबिक, अगर आपके ओठ और नाक पर के आसपास तिल है तो ऐसे जातक कई परिस्थितियों से परेशान होते है। ये गलत कामों को भी पूरा करने का पूरा प्रयास करते हैं।

मूल नक्षत्र में जन्मे लोग –

ज्योतिष द्वारा बताया गया है कि अगर कोई जातक का जन्म मूल नक्षत्र में हुआ है तो वह बेहद अलग विचार के होते हैं। ऐसे लोग तेजस्वी और यशस्वी माने जाते हैं। लेकिन अगर यह लोग अशुभ परिस्थितियों में है तो इन्हें क्रोध बहुत जल्दी आ सकता है। इस नक्षत्र में जन्मे लोग क्रोधी और ईर्ष्यालु स्वभाव के होते हैं।

Must Read : क्या आपके हाथ की हथेली में भी बनती है ऐसी रेखा? तो आपके जीवन में होगा ये सब

इन लोगों की सेहत भी अच्छी नहीं होती है। जानकारी के मुताबिक ज्योतिष द्वारा बताया गया है कि इन लोगों का मूल नक्षत्र का स्वामी ग्रह केतु है वही इनकी राशि का स्वामी गुरु है। इस वजह से इन्हें जीवन भर गुरु और केतु का प्रभाव झेलना पड़ता है।

दरअसल, यदि केतु नकारात्मकता को जन्म देता है तो गुरु के कारण जीवन में सकारात्मकता बनी रहती है। ऐसे में इस नक्षत्र में जन्मे लोग अपनी कड़ी मेहनत से फल प्राप्त करने में लगे हुए रहते हैं। मूल नक्षत्र में जन्मे लोग दृढ़ विचारों वाले होते हैं। यह लोग हमेशा अपने लक्ष्य पर ध्यान रखते हैं।