चैत्र नवरात्र की मंदिरों में तैयारियां शुरू- शनिवार से जुटेगी देवी मंदिरों में भीड़

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। 2 अप्रैल से चैत्र नवरात्र की शुरुआत होने जा रही है, मंदिरों में विशेष पूजन अनुष्ठानों के लिए खासी तैयारी भी अंतिम चरण में है, चैत्र नवरात्रि 02 अप्रैल, शनिवार से शुरू होकर 10 अप्रैल, रविवार तक चलेगी। इस दौरान देशभर में नवरात्रि के 9 दिनों में देवी मां के 9 स्वरूपों की पूजा की जाती है। मान्यता है कि नवरात्रि में मां दुर्गा के 9 रूपों की पूजा करने से खास कृपा बरसती है। इस दौरान लगभग हर नवरात्रि करने वालों के घर में घटस्थापना या कलश स्थापना की जाती है। इस बार नवरात्रि घटस्थापना का मुहूर्त 2 अप्रैल 2022, शनिवार को सुबह 06 बजकर 03 मिनट से 08 बजकर 31 मिनट तक रहेगा। यदि इस मुहुर्त में कलश स्थापना नहीं कर पाते हैं तो अभिजित काल में 11:48 से 12:37 तक कलश स्थापना कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें…. आम आदमी को बड़ा झटका, आज से Toll Tax महंगा, जानें किस हाईवे पर कितनी बढ़ोतरी

वही इन 9 दिनों में करें मां के नौ रूपों की पूजा अपने कुल देवी देवता की पूजा के साथ-साथ नवरात्रि के पहले दिन कलश स्थापना अर्थात घटस्थापना के साथ ही नवरात्रि की शुरुआत होती है। पहले दिन मां शैलपुत्री तो दूसरे दिन मां ब्रह्मचारिणी की पूजा की जाती है। तीसरे दिन मां चंद्रघंटा,चौथे दिन मां कुष्मांडा,तो पांचवे दिन स्कंदमाता की पूजा होती है। छठे दिन मां कात्यायनी एवं सातवें दिन मां कालरात्रि की पूजा की जाती है। आठवें दिन महागौरी तो नौवें दिन मां सिद्धिदात्री की पूजा की जाती है।