सेहतमंद गुणों से भरपूर होता है Lemon Grass, नींबू जैसी होती है सुगंध, फायदे जानकर रह जाएंगे दंग

Lemon Grass Benefits: लेमन ग्रास जो दिखने में घास की तरह ही होता है। लेकिन इसकी हरी-हरी और लंबी पत्तियां खुद में कई चमत्कारी गुण छुपाये आसानी से गार्डन में उग जाती है। यह कई बीमारियों का रामबाण इलाज बन सकता है। यह एक औषधीय पौधा होता है। इसका इस्तेमाल लंबे समय से दवा के रूप में किया जा रहा है। इतना ही नहीं आजकल ऑनलाइन ई-कॉमर्स वेबसाईट पर इसकी बिक्री ड्राइ फॉर्म में हो रही है। इसकी खुशबू बिल्कुल नींबू जैसी होती है। कई लोग तो इसका सेवन चाय में डाल कर सकते हैं, जो इसके स्वाद को और भी ज्यादा बढ़ा देता है। इसका इस्तेमाल त्वचा के लिए भी लाभदायक माना जाता है। पेट, दिमाग और किडनी के लिए भी यह बहुत फायदेमंद माना जाता है। आइए एक नजर इससे होने वाले फायदे पर डाले।

पाचन के लिए वरदान

स्टडी के मुताबिक लेमन ग्रास पाचन और पेट से जुड़ी समस्याओं के लिए बेहद करगार उपाय होता है। यह पेट की इंटरनल लाइनिंग को सुरक्षा प्रदान करता है।

वजन करता है कम

लेमन ग्रास शरीर को डिटॉक्स करने का काम करता है। साथ ही यह यूरिन के जरिए सभी टॉक्सिक पदार्थों को बॉडी से बाहर निकालता है। जिससे वजन कम होता है। साथी ही इसमें पाया जाने वाला बीटा सिट्रोनेलॉल फैट के टिश्यू को एक्टिव करता है, जिससे तेजी से चर्बी घटती है।

पिम्पल से मिलेगा छुटकारा

यह त्वचा के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है। इसमें एंटी-बैक्टिरीयल और एंटी-फंगल गुण पाए जाते हैं, जो पिम्पल और संक्रमण फैलाने वाले बैक्टीरीया को जड़ से खत्म करता है और बेदाग त्वचा देता है। एंटीऑक्सीडेंट गुण के कारण पिम्पल भी कम होता है।

अस्थमा मरीजों के लिए लाभकारी

लेमन ग्रास में विटामिन सी की मात्रा भरपूर होती है। जिसके कारण यह ब्लॉकेज, अस्थमा और फ्लू जैसे बीमारियों से राहत देता है। आयुर्वेद में सालों से अस्थमा मरीजों के लिए इसका इसका इस्तेमाल किया जा रहा है।

इन समस्याओं से भी मिलती है राहत

लेमन ग्रास के इस्तेमाल से घबराहट, उल्टी आना, चक्कर आना, तनाव, सिरदर्द, थकान जैसी समस्याओं से भी राहत मिलती है। खाली पेट इसका सेवन रखना मधुमेह मरीजों के लिए वरदान माना जाता है। यह दर्द कम करने का काम भी करता है।

Disclaimer: इस खबर का उद्देश्य केवल जानकारी साझा करना है। एमपी ब्रेकिंग न्यूज इन बातों का दावा नहीं करता। कोई भी उपाय आजमाने से पहले विशेषज्ञों की सलाह जरूर लें।