वजन घटाना है तो सोईये, इस तरह पा सकते हैं मोटापे से छुटकारा

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मोटापा (obesity) वो मुसीबत है जो एक बार आ जाए तो फिर इससे पीछा छुड़ाना कोई आसान काम नहीं। लोग मोटापा (weight loss) घटाने के लिए जाने क्या क्या उपाय नहीं करते। कोई जिम जाता है, एक्सरसाइज़ करता है, योग, डाइटिंग से लेकर जाने क्या क्या नहीं आज़मा लिया जाता, लेकिन शरीर में जमा फैट इतना जिद्दी होता है कि अक्सर पीछा ही नहीं छोड़ता। ऐसे में अगर हम आपसे कहें कि आप तो आराम से सोईये और अपना वज़न घटाइये, तो भला आपका क्या रिएक्शन होगा।

स्पीड के मामले में इस इलेक्ट्रिक बाइक ने तोड़ दिए सारे रिकॉर्ड, ₹40,000 की मिल रही सब्सिडी

दरअसल अपने सोने के तरीकों में बदलाव कर हम काफी हद तक मोटापे पर काबू पा सकते हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक सही तरह से नींद लेने वाले अपने वजन को कम कर सकते हैं। सोते हुए हमारी सांस, पसीने और शरीर में पानी की कमी होती है और इस कारण वजन 83 फीसदी तक कम होने की संभावना है। हालांकि ये हर व्यक्ति के मेटाबाॅजिल्म रेट पर भी निर्भर करता है। अच्छी नींद हमारे आपके मेटाबॉल्जिम को बढ़ाने में सहायक होती है। हमें इस बात का ध्यान रखना होगा कि रात को डिनर के बार तुरंत ही बिस्तर पर न चले जाएं। भोजन और नींद के बीच थोड़ा अंतर रखना जरूरी है और सोने से पहले टहलना लाभदायक होगा। रात का खाना हल्का और सुपाच्य हो और इसमें किसी तरह का कैफीन शामिल न हो। हल्के भोजन से कैलोरी बर्न होती है और वजन कम होने में मदद मिलती है।

हमारे लिए 7 से 8 घंटे की गहरी नींद जरूरी है। अगर रात में बार बार नींद टूटती है तो इस आदत को ठीक करना चाहिए। पर्याप्त और अच्छी नींद से तनाव कम होता है और एनर्जी लेवल बढ़ता है। नींद इम्युनिटी बूस्टर भी होती है और शरीर को ऊर्जावान रखने में मदद करती है। सोते वक्त कम तापमान से मेटाबॉलिज्म बढ़ता है और कैलोरी बर्न होती है। ठंडे तापमान में सोने के भी कई लाभ है। इससे गुड ब्राउन फैट की मात्रा बढ़ती है साथ ही अतिरिक्त ब्लड शुगर से भी छुटकारा मिलता है। इसलिए शरीर द्वारा सह्य ठंडे तापमान में सोना भी वजन कम करने में सहायक हो सकता है। तो अगर आप भी सही तरह से अपनी नींद लेते हैं तो ये आपका वजन घटाने के लिए बेहद उपयोगी साबित हो सकती है।