New Year Resolution 2023 : इन संकल्पों से कीजिए नए साल का स्वागत, बेहतर होगा जीवन

New year resolution 2023 : नया साल द्वार पर दस्तक दे रहा है। बस दरवाज़ा खोलने जितनी दूरी है और हम 2023 में प्रवेश कर जाएंगे। जब भी हमारे घर कोई नया मेहमान आता है तो हम उसके लिए खास तैयारियां करते हैं। इसी तरह नए साल की आमद पर भी कुछ नया और बेहतर होना चाहिए। कई लोग हर साल कुछ संकल्प लेते हैं जिससे उनके जीवन में गुणात्मक सुधार हो। ऐसा करना हर लिहाज से अच्छा हैं क्योंकि इस तरह जहां हम अच्छी आदतों को अपने व्यवहार में ला सकते हैं, वहीं कमजोरियों से भी मुक्ति पा सकते हैं। आज हम ऐसे ही कुछ संकल्पों की बात करेंगे, जिन्हें अपनाकर आप भी नए साल में अपना एक बेहतर वर्जन देख सकते हैं।

  • कहा जाता है पहला सुख निरोगी काया..इसलिए सबसे पहले अपने स्वास्थ्य की ओर ध्यान दीजिए। जब आप स्वस्थ होंगे तभी अपनों का खयाल रख पाएंगे। इसीलिए सही जीवनशैली, अच्छा खानपान, एक्सरसाइज और समय पर सोने की आदत डालिये। फिटनेस को लेकर सजग रहें और इसके लिए अतिरिक्त समय निकालें।
  • सेहत की बात करते हैं तो शरीर के साथ मानसिक स्वास्थ्य पर भी ध्यान देना जरूरी है। आज के भागदौड़ वाले समय में तनाव, अनिद्रा, चिड़चिड़ापन, डिप्रेशन, एनज़ाइटी सहित कई तरह की मानसिक समस्याएं बढ़ रही हैं। इसीलिए अपने दिमाग और मन को शांत रखने के लिए योग, ध्यान या इसी तरह की अन्य गतिविधियों में शामिल हो सकते हैं।
  • अपने करियर की तरफ गौर कीजिए। कोरोना के बाद से ऐसे कई सेक्टर है जिनपर मंदी की मार पड़ी है। इसीलिए अपनी स्किल बढ़ाएं और मल्टीटैलेंडेट बनें। कुछ नया सीखिए और कोशिश कीजिए कि कमाई का कोई समानांतर जरिया भी पैदा कर सकें।
  • नौकर, घर परिवार की जिम्मेदारियों और तमाम उलझनों के बीच हम सबसे ज्यादा इग्नोर करते हैं अपने शौक और पसंद को। इसलिए कोशिश कीजिए कि टाइम मैनेजमेंट कर अपनी हॉबी भी पूरा कर सकें। फिर चाहे वो पढ़ना हो या सिनेमा देखना या फिर खाना पकाना..अपने शौक को टाइम दीजिए और ये शौक आपको तनाव से मुक्ति देंगे।
  • हर साल कोई एक नई चीज़ सीखने का संकल्प लीजिए। ये गाना, डांस, पेंटिंग, भाषा, कुकिंग, एक्टिंग कुछ भी हो सकता है। इससे एक नई स्किल पैदा होगी जो हमारे भीतर नया आत्मविश्वास पैदा करती है।
  • अगर आपके भीतर कोई कमी है या बुरी आदत..तो उसे छोड़ने का संकल्प लीजिए। स्मोकिंग, झूठ बोलना, लगातार बाहर खाना, काम में टोलमटोल जैसी कोई भी आदत जो आपको या किसी और को नुकसान पहुंचा सकती है, उसे छोड़ने का मन बनाइये।
  • साल में एक या दो बार अपने परिवार या दोस्तों के साथ घूमने जरूर जाइये। घूमना हमारे मन को डिटॉक्स करता है। बाहर जाकर हम अपनी समस्याओं को नए नजरिए से देख पाते हैं और रिलेक्स भी होते हैं। घूमने से काफी कुछ सीखते भी हैं और आनंद तो आता ही है।
  • अपने दोस्तों के साथ समय बिताइये। दोस्तों, करीबी रिश्तेदारों और शुभचिंतकों का जीवन में होना नेमत है। इसीलिए भले ही जितनी व्यस्तता हो, इनसे जुड़े रहिए। अच्छे और सच्चे दोस्तों का साथ बहुत कीमती होता है इसीलिए खुद भी ऐसे ही दोस्त बनने की कोशिश कीजिए।